बिहार: मछली पार्टी में शामिल हुए CO का निलंबन वापस, फिर मिला उसी जगह का चार्ज

मखदुमपुर सीओ राजीव रंजन को निलंबन मुक्त कर दिया है. निलंबन मुक्त करते हुए हुए, उन्हें फिर से मखदुमपुर का सीओ के पद पर तैनात किया है.

बिहार: मछली पार्टी में शामिल हुए CO का निलंबन वापस, फिर मिला उसी जगह का चार्ज
बिहार: मछली पार्टी में शामिल हुए CO का निलंबन वापस, फिर मिला उसी जगह का चार्ज. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना: राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग ने मखदुमपुर सीओ राजीव रंजन को निलंबन मुक्त कर दिया है. निलंबन मुक्त करते हुए हुए, उन्हें फिर से मखदुमपुर का सीओ के पद पर तैनात किया है. बता दें कि, जहानाबाद में मंत्री कृष्णनंदन वर्मा के गांव में लॉकडाउन (Lockdown) के बीच मछली पार्टी मनाने की खबर आई थी.

इसके बाद, राज्य सरकार ने सीओ राजीव कुमार को सस्पेंड कर दिया था. वहीं, बीते 19 अप्रैल को बिहार सरकार के शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा के गांव पर उनके सहायक पिन्टू यादव के घर पर मछली पार्टी के आयोजन के नाम पर, जिले के एसडीपीओ, बीडीओ और सीओ को लॉकडाउन उल्लंघन के मामले में निलंबित कर दिया गया था.

इसमें मखदुमपुर के बीडीओ पहले ही रिलीज किए जा चुके है. गुरुवार को सीओ राजीव रंजन को भी विभाग ने निलंबनमुक्त कर दिया है. बता दें कि, जहानाबाद में लॉकडाउन के बीच शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा के स्टॉफ पिंटू यादव द्वारा मछली पार्टी दिए जाने का मामला बिहार में गर्मा गया था. इस पर राज्य में सियासत भी खूब हुई थी.

राज्य में विपक्षी पार्टियां नीतीश कुमार (Nitish Kumar) सरकार पर लगातार सवाल उठा रही थी. मामला गर्माता हुआ देख, बिहार सरकार द्वारा लगातार कार्रवाई की गई थी. मछली पार्टी में शामिल होने वाले जहानाबाद के एसडीपीओ प्रभात भूषण श्रीवास्तव, मखदुमपुर प्रखंड के बीडीओ अनील मिस्त्री और सीओ राजीव कुमार पर सस्पेंड कर दिया गया है.

वहीं, पार्टी का आयोजन करने वाले पिंटू यादव को शिक्षा मंत्री ने अपने स्टॉफ पद से हटा दिया है. इस मामले को लेकर पहले एसडीपीओ प्रभात भूषण श्रीवास्तव, मंत्री के स्टॉफ पिंटू यादव, मखदुमपुर प्रखंड के बीडीओ अनील मिस्त्री, सीओ राजीव कुमार समेत 8 नामजद और 25 से 30 अज्ञात लोगों पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी.

एसडीपीओ के सस्पेंसन को लेकर गृह विभाग के विशेष सचिव के हवाले से जारी अधिसूचना में एसडीपीओ को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है. इस संबंध में गृह विभाग ने अधिसूचना जारी कर दी है. गृह विभाग ने अपने आदेश में कहा है कि जहानाबाद के एसडीपीओ प्रशांत भूषण श्रीवास्तव पर गैरकानूनी कार्य करने स्वेच्छाचारिता समेत कई आरोप पाए गए हैं. इसके बाद उन्हें निलंबित करने का फैसला लिया गया है.

वहीं, मखदुमपुर प्रखंड के बीडीओ अनील मिस्त्री को ग्रामीण विकास विभाग ने मामले को गंभीरता से लेते हुए, सस्पेंड कर दिया है. साथ ही, मखदुमपुर प्रखंड के अंचलाधिकारी राजीव कुमार को राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग द्वारा तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है.

बता दें कि, टेहटा ओपी क्षेत्र के सुगांव में एसडीपीओ प्रभात भूषण श्रीवास्तव, बीडीओ अनील मिस्त्री, अंचलाधिकारी राजीव कुमार शिक्षा मंत्री के पीए पिंटू यादव के घर पर अप्रैल में मछली पार्टी में शामिल हुए थे. लॉकडाउन के बीच एसडीपीओ, बीडीओ, सीओ समेत कई लोग उस पार्टी में शामिल हुए थे.

मीडिया में खबर आने के बाद डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने जांच बैठाया और जांच में सत्यता पाई गई. इसके बाद, टेहटा ओपी अध्यक्ष बैरिस्टर पासवान के बयान पर मखदुमपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की गई है.