झारखंड चुनाव: बिश्रामपुर से कांग्रेस उम्मीदवार ने भरा पर्चा, RJD बोली- गठबंधन के लिए दी कुर्बानी

 Jharkhand Assembly election 2019: अनीता यादव ने कहा कि महागठबंधन को एकजुट करने के लिए आरजेडी ने कुर्बानी दी है, ताकि एनडीए (NDA) को शिकस्त दी जा सके.

झारखंड चुनाव: बिश्रामपुर से कांग्रेस उम्मीदवार ने भरा पर्चा, RJD बोली- गठबंधन के लिए दी कुर्बानी
RJD ने कहा कि एनडीए को शिकस्त देने के लिए हमने सीट की कुर्बानी दी है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सौरभ शुक्ला, रांची: आखिरकार झारखंड में आरजेडी (RJD) को मानना पड़ गया. दरअसल बिश्रामपुर विधानसभा सीट से आरजेडी अपना उम्मीदवार उतारना चाहती थी. लेकिन महागठबंधन में सीट नहीं मिलने से पार्टी ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारा. सीटों के बंटवारे पर आरजेडी ने जेएमएम (JMM) और कांग्रेस (Congress) के फैसले को स्वीकार कर लिया. 

दरअसल झारखंड में विधानसभा चुनाव में सीट बंटवारे को लेकर आरजेडी नाराज थी. पार्टी की नाराजगी बिश्रामपुर सीट को लेकर थी. गठबंधन में आरजेडी को 7 सीटें दी गई है. लिहाजा बिश्रामपुर सीट से कांग्रेस के कद्दावर नेता चंद्रशेखर दुबे उर्फ ददई दुबे ने नामांकन किया. इस पर आरजेडी की प्रवक्ता अनीता यादव ने कहा कि महागठबंधन को एकजुट करने के लिए आरजेडी ने कुर्बानी दी है, ताकि एनडीए (NDA) को शिकस्त दी जा सके.

वहीं, कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश ठाकुर ने कहा कि यह सही है कि हमारे गठबंधन में तीनों दल हैं. गठबंधन के साथियों ने मिल बैठकर ठोस निर्णय लिया है. इस गठबंधन में सभी की भूमिका महत्वपूर्ण है. लालू यादव अभिभावक के तौर पर हैं और उन्हें पता है कि इस गठबंधन की आवश्यकता क्या है.

झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रवक्ता विनोद पांडे ने कहा कि लोकसभा चुनाव के पहले ही गठबंधन का स्वरूप तय हो गया था. उस समय यह निर्णय लिया गया था कि विधानसभा चुनाव हेमंत सोरेन के नेतृत्व में लड़ा जाएगा और लोकसभा कांग्रेस के नेतृत्व में. इसलिए हेमंत सोरेन ने अपने तीनों सहयोगी दलों से बातचीत कर एक बेहतर रास्ता निकाला है, ताकि मजबूती के साथ गठबंधन तैयार किया जा सके.