केंद्र के खिलाफ कांग्रेस का आंदोलन कल से, जिलाध्यक्षों को अभी तक नहीं दी गई कोई जानकारी

कांग्रेस पर बोलते हुए विधायक नितिन नवीन ने कहा कि बिहार कांग्रेस की कोई वजूद नहीं है. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर राहुल गांधी से भी इसके बारे में पूछा जाय तो शायद उन्हें भी पार्टी के कार्यक्रम की कोई जनकारी नहीं होगी. 

केंद्र के खिलाफ कांग्रेस का आंदोलन कल से, जिलाध्यक्षों को अभी तक नहीं दी गई कोई जानकारी
कल से केंद्र सरकार के खिलाफ कांग्रेस का जन आंदोलन. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना: केंद्र की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) सरकार के खिलाफ कल यानी 5 नवंबर से 15 नवंबर तक जन आंदोलन करने जा रही है. केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ पार्टी लोगों को जागरूक करने की कोशिश करेगी. हालांकि इसके लिए अभी तक कोई रणनीति नहीं तय हो सकी है. किसी भी जिलाध्यक्ष और पार्टी नेताओं को अभी तक कोई निर्देश नहीं दिया गया है.

बिहार कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ काका कहना है कि आंदोलन के लिए पार्टी पूरी तरह तैयार है. इसके लिए वर्किंग कमेटी की बैठक भी बुलाई गई है. बैठक में सबकुछ तय हो जाएगा. उन्होंने कहा कि छठ पूजा के कारण सभी व्यस्त थे.

कांग्रेस की स्थिति पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने तंज कसा है. कांग्रेस पर बोलते हुए विधायक नितिन नवीन ने कहा कि बिहार कांग्रेस की कोई वजूद नहीं है. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर राहुल गांधी से भी इसके बारे में पूछा जाय तो शायद उन्हें भी पार्टी के कार्यक्रम की कोई जनकारी नहीं होगी. जाहिर है पार्टी भी राहुल गांधी की ही तरह चलेगी.

कांग्रेस पार्टी एकबार फिर जनसमर्थन पाने के लिए बड़ा आंदोलन करने जा रही है. इस बार आंदोलन पूरे देश में एकसाथ होने जा रहा है. पार्टी का दावा है कि 5 से 15 नवंबर तक कांग्रेस का हर कार्यकर्ता केन्द्र सरकार की विफलताओं के खिलाफ सड़क पर उतरेंगे. हर जिले में कांग्रेस के कार्यकर्ता आंदोलन करते नजर आएंगे. पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी के निर्देश पर बिहार कांग्रेस के नेता भी आंदोलन को सफल बनाने में जुट गये हैं.