close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

पटना: घरवालों ने नहीं दी शादी की इजाजत, प्रेमी जोड़े ने ट्रेन के आगे लगा दी छलांग

हादसे में नंदनी की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि सरोज गंभीर रूप से घालय हो गया. पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया. 

पटना: घरवालों ने नहीं दी शादी की इजाजत, प्रेमी जोड़े ने ट्रेन के आगे लगा दी छलांग
प्रेमी जोड़े ने की आत्महत्या की कोशिश. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना: झारखंड के देवघर के साइबर सेल में तैनात कॉन्स्टेबल नंदनी कुमारी और कॉन्स्टेबल सरोज कुमार झा ने शादी के लिए घरवालों की रजामंदी नहीं मिलने पर कुछ ऐसा किया, जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है. कानून का पालन करने वाले दोनों कॉन्स्टेबल मौत के गले लगाने पटना के सचिवालय हाल्ट पहुंच गए.

गुरुवार को दोनों खुदकुशी के लिए ट्रेन के आगे कूद गए. हादसे में नंदनी की मौके पर ही मौत हो गई. जबकि सरोज गंभीर रूप से घालय हो गया. पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया. यहां वो जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा है. खुदकुशी करने से पहले दोनों ने अपने विभाग को एक मैसेज भी लिखा, जिसमें पूरी कहानी बताई गई थी.

बताया जा रहा है कि दोनों का वर्षों से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. दोनों शादी करना चाहते थे. लेकिन घरवाले इसके लिए तैयार नहीं थे. कई बार कोशिश करने के बाद भी दोनों अपने परिजनों को शादी के लिए नहीं मना सके थे. लिहाजा दोनों दो दिन पहले पटना आए और यहां एक होटल में पति-पत्नी बनकर ठहरे. होटल से ही दोनों ने साइबर सेल के व्हाट्सऐप ग्रुप में मैसेज लिखा. मैसेज में लिखा, 'सर मुझे माफ कर देंगे'. लेकिन जब तक अधिकारी कुछ समझ पाते काफी देर हो चुकी थी.

गुरुवार सुबह 11 बजे दोनों ने अप लाइन से गुजर रही ट्रेन के आगे छलांग लगा दी, जहां महिला कॉन्स्टेबल की मौके पर ही मौत हो गई. सरोज गंभीर रूप से घायल हो गया.

पुलिस ने दोनों के परिजनों को घटना की जानकारी दे दी है. फिलहाल दोनों के परिजन इस मामले पर चुप्पी साधे हैं. लेकिन पुलिस ने मिले साक्ष्य के आधार पर ये साफ कर दिया है कि प्रेम-प्रसंग और शादी की रजामंदी नहीं मिलने के कारण ही दोनों ने खुदकुशी की है.

(Edited by Rajendra Malviya)