close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड: कोडरमा में मेडिकल कॉलेज का निर्माण शुरू, 2022 में होगी पढ़ाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 23 सितंबर को रांची से इस मेडिकल कॉलेज का ऑनलाइन शिलान्यास किया था.

झारखंड: कोडरमा में मेडिकल कॉलेज का निर्माण शुरू, 2022 में होगी पढ़ाई
कोडरमा में हो रहा है मेडिकल कॉलेज का निर्माण.

गजेंद्र बिहारी, कोडरमा : झारखंड के कोडरमा में मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल बनाने का काम शुरू हो गया है. 30 एकड़ जमीन पर मेडिकल कॉलेज का निर्माण किया जाएगा. सिम्पलेक्स कंपनी को 100 सीटों वाले मेडिकल कॉलेज के निर्माण के अलावा सदर अस्पताल के अपग्रेडेशन का काम सौंपा गया है. इसके तहत दो सौ बेड वाले अस्पताल बनाए जाएंगे.

इससे पहले कोडरमा के करमा में श्रम मंत्रालय की ओर से केंद्रीय अस्पताल चल रहा था, जिसके बंद होने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 23 सितंबर को रांची से इस मेडिकल कॉलेज का ऑनलाइन शिलान्यास किया था.

लाइव टीवी देखें-:

मेडिकल कॉलेज के निर्माण का जायजा लेने अपने दल बल के साथ उपायुक्त रमेश घोपल पहुंचे और निर्माण कार्य में तेजी लाने के लिए कंपनी को निर्देश दिया. कोडरमा के उपायुक्त रमेश घोपले ने कहा कि 'मेडिकल कॉलेज का निर्माण शुरू हो गया है, खंडहर हो चुके घरों को तोड़ने के लिए घर खाली कराए जा रहे हैं. साल 2022 तक मेडिकल कॉलेज के निर्माण को पूरा करने का लक्ष्य है लेकिन इससे पहले भी पूरा किया जा सकता है.'

मेडिकल कॉलेज के लिए सरकार करीब 300 करोड़ रुपए खर्च करेगी. आजादी के 3 साल बाद कोडरमा में अभ्रक उद्योग के मजदूरों के लिए केंद्रीय कर्मा अस्पताल खोला गया था. जिसकी क्षमता 500 बेड की थी. इसका उद्घाटन तत्कालीन श्रम मंत्री जगजीवन राम ने किया था. 1980 के आसपास अभ्रक उद्योग बंद हो गए, जिसके बाद यहां से मजदूरों का पलायन हो गया. धीरे-धीरे मजदूरों के लिए खुला अस्पताल भी मरणासन्न स्थिति में पहुंच गया.

बीते तीन दशक से कोडरमा में मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल की मांग हो रही थी, जिसे कई पार्टियों ने चुनावी मुद्दा भी बनाया लेकिन मेडिकल कॉलेज का निर्माण नहीं हुआ. साल 2014 में राज्य और केंद्र में बीजेपी की सरकार बनी और फिर मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल खुलने का रास्ता साफ हुआ. कोडरमा के साथ-साथ चाईबासा में भी मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे. वहीं, पलामू, हजारीबाग और दुमका के मेडिकल कॉलेज में इसी सत्र से पढ़ाई शुरू हो जाएगी. इन तीनों मेडिकल कॉलेजों में सौ-सौ सीटों पर दाखिला होगा.

(Edited by Sameer Bajpai)