close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार : ठेकेदार हत्याकांड में नया मोड़, बेटे ने चीफ इंजीनियर पर लगाया मर्डर का आरोप

दर्ज प्राथमिकी के मुताबिक, चीफ इंजिनियर की पत्नी ने घर के अंदर से तेल से भरा हुआ गैलन लेकर आई और सभी अभियंताओ की मौजूदगी में चीफ इंजीनियर ने रमाशंकर सिंह की जलाकर हत्या कर दी.

बिहार : ठेकेदार हत्याकांड में नया मोड़, बेटे ने चीफ इंजीनियर पर लगाया मर्डर का आरोप
ठेकेदार के बेटे ने लगाया मर्डर का आरोप. (फाइल फोटो)

गोपालगंज : बिहार के गोपालगंज में प्रतिष्ठित ठेकेदार रमाशंकर सिंह हत्याकांड में अब नया मोड़ आ गया है. ठेकेदार के बेटे ने नगर थाना में मुख्य अभियंता मुरलीधर सिंह, अधीक्षण अभियंता जीतेन्द्र प्रसाद सिंह और कार्यपालक अभियंता सत्येन्द्र कुमार के खिलाफ पिता को जिंदा जलाने की नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी है. इस प्राथमिकी में मृतक के बेटे ने चीफ इंजिनियर की पत्नी सहित चार अन्य अज्ञात लोगों पर भी अपने पिता को जिंदा जलाने का आरोप लगाया है.

दर्ज प्राथमिकी के मुताबिक, चीफ इंजिनियर की पत्नी ने घर के अंदर से तेल से भरा हुआ गैलन लेकर आई और सभी अभियंताओ की मौजूदगी में चीफ इंजीनियर ने रमाशंकर सिंह की जलाकर हत्या कर दी. इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने कल देर शाम तक एनएच-28 को जाम कर चीफ इंजिनियर सहित सभी दोषी अभियंताओ की गिरफ़्तारी की मांग करते की.

जिला प्रशासन के समझाने के बाद लोगों का गुस्सा शांत हुआ और देर रात शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल में लाया गया. लोगों के तनाव और गुस्सा को देखते हुए भारी संख्या में पुलिस जवानों को लगाया गया था. डीएम अनिमेष कुमार पराशर, एसपी राशिद जमा सहित कई आला पदाधिकारी रातभर अस्पताल में पोस्टमार्टम के दौरान मौजूद रहे. मेडिकल बोर्ड में तीन चिकित्सकों की टीम के द्वारा शव का पोस्टमार्टम कराया गया है. मेडिकल बोर्ड अपनी रिपोर्ट सौपेंगी. इसके साथ ही एफएसएल की टीम भी आज जांच शुरू करेगी.

लाइव टीवी देखें-:

डीएम अनिमेष कुमार पराशर ने कहा कि जिन लोगों ने जो भी जानकारी दी है उसके आधार पर पुलिस टीम के द्वारा प्राथमिकी दर्ज जांच कर कार्रवाई की जाएगी. दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात उन्होंने कही. एसपी राशिद जमा ने बताया कि कांट्रेक्टर चीफ इंजीनियर के आवास पर जल गए थे, जिससे उनकी मौत हो गई है. मृतक के बेटे ने लिखित आवेदन दिया है, जिसके आधार पर प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. इस मामले की जांच एफएसएल की टीम को दी गई है. वित्तीय जांच के लिए फाइनेंसियल टीम मामले की जांच करेगी.

वहीं, मृतक ठेकेदार रमाशंकर सिंह के भाई शिवशंकर सिंह का आरोप है कि मुख्य अभियंता 60 लाख की भुगतान के लिए 15 लाख रुपए की घूस मांग रहे थे. जब उन्होंने घूस नहीं दिया तो उनको घर पर बुलाकर बेरहमी से जलाकर मार डाला गया. इस घटना में कई लोग शामिल हैं.