close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गोपालगंज जेल में सजायाफ्ता पूर्व मुखिया की मौत, परिजनों ने सड़क जाम कर किया प्रदर्शन

गोपालगंज मंडल कारा में सजायाफ्ता कैदी की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई है. वहीं, मौत के बाद जेल प्रशासन मृतक के शव को ऐसे ही सदर अस्पताल में छोड़ कर चले गए.

गोपालगंज जेल में सजायाफ्ता पूर्व मुखिया की मौत, परिजनों ने सड़क जाम कर किया प्रदर्शन
गोपालगंज जेल में कैदी की संदिग्ध हालत में मौत हो गई.

मधेश तिवारी/गोपालगंजः बिहार के गोपालगंज मंडल कारा में सजायाफ्ता कैदी की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई है. वहीं, मौत के बाद जेल प्रशासन मृतक के शव को ऐसे ही सदर अस्पताल में छोड़ कर चले गए. इस घटना के बाद मृतक के परिजन आक्रोशित हो गए और नगर थाना के बंजारी चौक को जाम कर घंटो प्रदर्शन किया.

परिजनों ने जेल प्रशासन के खिलाफ इलाज में देरी करने और लापरवाही का आरोप लगाते हुए जेल अधीक्षक के खिलाफ कारवाई की मांग की है.

मृतक कैदी का नाम बिरेन्द्र यादव है जो पूर्व मुखिया थे. वह सदर प्रखंड के रामपुर टेंग्राही पंचायत का रहने वाला था. बताया जाता है अभी उसकी पत्नी मुखिया है. बिरेन्द्र यादव के ऊपर चर्चित हत्याकांड ब्रिजेश राय की हत्या में शामिल होने का आरोप था. इसी मामले में वह आजीवन कारवास की सजा काट रहा था.

बताया जाता है की उसे कल शाम सीने में दर्द हुआ. जिसके बाद जेल के अन्दर बने अस्पताल में भर्ती कराया गया. भर्ती कराने के बाद भी जब उसकी तबियत में सुधार नहीं हुई तब उसे देर रात ही सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया. लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गयी.

मृतक के परिजनों का आरोप है की जेल प्रशासन के द्वारा बीमार होने पर उन्हें कोई सूचना नहीं दी गयी. इसके साथ शव को लावारिस ही अस्पताल में छोड़कर जेल प्रशासन के सिपाही चले गए. परिजनों को मौत की सूचना देर से दी गयी. इसी को लेकर परिजनों ने आज तड़के रविवार को नगर थाना के बंजारी चौक पर एनएच 28 को जाम कर दिया. और घंटो प्रदर्शन किया. 

जाम और हंगामा की वजह से एनएच 28 पर कई किलोमीटर लंबा जाम लग गया. हालांकि सदर एसडीपीओ नरेश कुमार पासवान और डीसीएलआर मौके पर पहुचकर परिजनों को समझाने का प्रयास कर रहे थे.