Breaking News
  • बिहार में आज प्रधानमंत्री मोदी की रैली
  • 15 साल में बिहार बहुत आगे बढ़ा- प्रधानमंत्री
  • मेरे मित्र, भाई नीतीश जी को आपके आशीर्वाद निश्चित मिलने वाले हैं: पीएम मोदी

देश के पहले दृष्टिबाधित IAS अधिकारी का छात्रों को संदेश, रिजल्ट को लेकर कहा कुछ ऐसा

उन्होंने कहा कि मैं अगर दृष्टिबाधित होते हुए आगे बढ़ सकता हूं और अपना मुकाम पा सकता हूं तो आप क्यों नहीं. बस खुद पर विश्वास रखने की जरूरत है. 

देश के पहले दृष्टिबाधित IAS अधिकारी का छात्रों को संदेश, रिजल्ट को लेकर कहा कुछ ऐसा
देश के पहले दृष्टिबाधित IAS अधिकारी का छात्रों को संदेश, रिजल्ट को लेकर कहा कुछ ऐसा.

बोकारो: देश के पहले दृष्टिबाधित आईएस अधिकारी बोकारो के राजेश सिंह ने छात्रों से अपील करते हुए कहा है कि एक्जाम के रिजल्ट देखकर हताश होने की जरूरत नहीं है, बल्कि आगे बढ़ने के लिए लगातार कठिन परिश्रम करते रहने की दरकार है. उन्होंने कहा कि हमारे जज्बात को देखकर अपने ऊपर विश्वास रखने की जरूरत है. 

उन्होंने कहा कि मैं अगर दृष्टिबाधित होते हुए आगे बढ़ सकता हूं और अपना मुकाम पा सकता हूं तो आप क्यों नहीं. बस खुद पर विश्वास रखने की जरूरत है. 

बोकारो उपायुक्त ने कहा कि यह महीना परीक्षा परिणाम का महीना है. कई सारे रिजल्ट निकलने के बाद अब आगे की पढ़ाई के लिए दाखिले की दौड़ का तनाव बच्चों को घेरे हुए है. ऐसे में उन्होंने अपील की है कि वो तनाव से उबर कर निरंतर प्रयास करते रहें. और इस दौरान कोई गलत कदम न उठाएं.

उन्होंने साथ ही माता-पिता को यह संदेश दिया कि बच्चों को मोबाइल और टीवी से दूर रखें और ज्यादा से ज्यादा वक्त बिताएं तभी भावनात्मक संबंध बच्चे और माता-पिता के साथ जुड़े पाएंगे.

बताते चलें कि बोकारो के चांस थाना क्षेत्र में पिछले दिनों एक्जाम के रिजल्ट के डर से एक बच्चे ने आत्महत्या कर ली थी और तीन बच्चे घर से भाग गए थे. हालांकि, पुलिस के सहयोग से तीनों छात्रों को घर वापस लाया गया है.