झारखंड: मांडर गैंगरेप में कोर्ट ने सुनाया फैसला, दोषियों को 20 साल की कारावास

स्पेशल जज केएम प्रसाद ने मांडर गैंगरेप मामले में सोमवार को दो अभियुक्तों को दोषी करार दिया है.साथ ही दोषियों को 20-20 साल की सजा का ऐलान किया है.

झारखंड: मांडर गैंगरेप में कोर्ट ने सुनाया फैसला, दोषियों को 20 साल की कारावास
मांडर गैंगरेप मामले में कोर्ट ने फैसला सुनाया है.

रांची: पॉक्सो के स्पेशल जज केएम प्रसाद ने मांडर गैंगरेप मामले में सोमवार को दो अभियुक्तों को दोषी करार दिया है. इसके साथ ही अदालत ने 376 डी (गैंगरेप) और 366ए (अपहरण) की धारा और पॉक्सो 6 के तहत अदालत ने दोषियों को 20-20 साल की सश्रम कारावास की सजा सुनाई है.

बता दें कि मामला 18 मार्च 2016 का है, जब एक नाबालिक को कुछ लोग बहला-फुसलाकर घर से बाहर ले गए और उसका बलात्कार किया. इसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर पॉक्सो (POCSO) एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया.

वहीं, करीब चाल साल के लंबे इंतजार के बाद अदालत ने दो अभियुक्तों को सजा सुनाई. कोर्ट ने आशीष उराव और रणजीत उराव को इस मामले में दोषी मानते हुए सजा का ऐलान किया.