झारखंड : क्राइम कैपिटल बनता जा रहा है रांची, बढ़ रहा है अपराध का ग्राफ

रांची में रविवार रात करीब नौ बजे पंडरा ओपी थाना क्षेत्र के रवि स्टील चौक पर बीजेपी नेता देवेंद्र सिंह को अपराधियों ने गोली मार दी. 

झारखंड : क्राइम कैपिटल बनता जा रहा है रांची, बढ़ रहा है अपराध का ग्राफ
झारखंड में निरंतर बढ़ रहे हैं अपराध के ग्राफ.

रांची : राजधानी रांची की पहचान अब क्राइम कैपिटल के तौर पर होने लगी है. हाल के दिनों में गोलीबारी, हत्या, लूट, डकैती और बलात्कार जैसी घटनाओं में तेजी से इजाफा हुआ है. ऐसा लग रहा है कि जैसे पुलिस का इकबाल खत्म हो गया हो और अपराधी बेखौफ हो गए हैं.

रांची में रविवार रात करीब नौ बजे पंडरा ओपी थाना क्षेत्र के रवि स्टील चौक पर बीजेपी नेता देवेंद्र सिंह को अपराधियों ने गोली मार दी. उसके कुछ ही देर बाद हिंदपीढ़ी थाना क्षेत्र के बड़ा तालाब के पास अपराधियों ने तबरेज नामक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी. दोनों ही लोगों को उस वक्त गोली मारी गई जब प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर रांची में रात भर विशेष चेकिंग अभियान चलाया जा रहा है. देवेंद्र सिंह का इलाज रिम्स में चल रहा है.

मानसरोवर: चोरी के बाद बदमाशों ने की बुजुर्ग महिला निर्मम हत्या, जांच में जुटी पुलिस

तबरेज को अपराधियों ने पहले फोन कर रतन टॉकीज के पास मिलने के लिए बुलाया और जब वह अपने बाइक से जाने लगा तो बड़ा तालाब के पास रोककर ही ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दी.

हाल में घटी घटना : 

>> 16 सितंबर- बीजेपी नेता देवेंद्र सिंह को गोली मारी.
>> 16 सितंबर- जमीन कारोबारी तबरेज की गोली मारकर हत्या.
>> 16 सितंबर- पिठोरिया में 7 लाख रुपये की डकैती. 
>> 14 सितंबर- धुर्वा में बाल विकास परियोजना में फायरिंग. 
>> 14 सितंबर- उज्जवल मिश्रा नामक युवक का शव बरामद
>> 13 सितंबर- जगन्नाथपुर में महिला की हत्या कर शव दफनाया. 
>> 12 सितंबर- विधानसभा के पास दंपति से 5 लाख रुपये के जेवर की लूट. 
>> 12 सितंबर- बुंडू में युवती के साथ गैंगरेप. 
>> 10 सितंबर- लालपुर के भीड़ भाड़ वाले इलाके में फायरिंग.
>> 8 सितंबर- डोरंडा में नाबालिक से रेप. 
>> 7 सितंबर- सीएम हाउस के सामने SPO बुधु दास की हत्या. 
>> 6 सितंबर विधवा महिला से रेप. 

ये सिर्फ पिछले 10 दिनों का रिकॉर्ड है. इसके अलावे भी कई ऐसे मामले हैं जो पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर रहे हैं. लगातार घट रही घटना और सुरक्षा को लेकर इसलिए सवाल उठ रहे हैं क्योंकि पुलिस इन दिनों राजधानी में 23 सितंबर को प्रस्तावित प्रधानमंत्री के दौरे को लेकर अलर्ट पर है. दिन-रात चेकिंग अभियान चल रहा है. 

पुष्कर: अगवा हुए 7 साल के बच्चे का हुआ मर्डर, खेत में पड़ा मिला शव

राजधानी रांची में हाल के दिनों में कानून व्यवस्था का यह हाल इसलिए भी हो गया है, क्योंकि एक साथ लगभग सभी डीएसपी और कई थाने के मुंशी बदल दिए गए हैं. इससे पुलिस का सूचना तंत्र कमजोर हो गया और अपराधियों के मन से पुलिस का इकबाल खत्म हो गया है.