close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जमशेदपुर: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दस साल से गायब अपराधी को किया गिरफ्तार

गिरोह खासकर, उन ट्रकों के ड्राइवर-खलासी को बंधक बना कर लूट की घटनाओं को अंजाम देता था जिस पर लाखों के स्क्रैप लदे होते थे.

जमशेदपुर: पुलिस को मिली बड़ी सफलता, दस साल से गायब अपराधी को किया गिरफ्तार
करीब दस वर्षों से जमशेदपुर पुलिस की आंख में धूल झोंक रहा था. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

जमशेदपुर: रोड रॉबरी, ट्रक समेत कंपनियों से करोड़ों का माल उड़ाने के अलावा करीब एक दर्जन लूट के संगीन मामलों में फरार मोस्ट वांटेड रविशंकर सिंह उर्फ रवि सिंह आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया. वह बीते करीब दस वर्षों से जमशेदपुर पुलिस की आंख में धूल झोंककर कोलकाता के राजगंज में शानो-शौकत भरी जिंदगी जी रहा था.

करीब पंद्रह साल पहले रवि सिंह ने अपराध की दुनिया में कदम रखा, तब से रवि ने पीछे मुड़कर नहीं देखा. उसने बकायदा एक गिरोह तैयार किया था. उसका गिरोह रोड रॉबरी के साथ आदित्यपुर औद्योगिक क्षेत्र समेत अन्य विभिन्न क्षेत्रों की कंपनियों से माल लदा ट्रक गायब करने का एक के बाद एक संगीन अपराध करता गया. गिरोह खासकर, उन ट्रकों के ड्राइवर-खलासी को बंधक बना कर लूट की घटनाओं को अंजाम देता था जिस पर लाखों के स्क्रैप लदे होते थे.

 

रवि सिंह ने पुलिस की आंखों में धूल झोंकते हुए कोलकाता के राजगंज में पिछले कई वर्षों से सफेदपोश बनकर शानो-शौकत की जिंदगी जी रहा था. उसके खिलाफ नौ संगीन मामलों में कोर्ट ने स्थाई और अजमानतीय वारंट जारी किया था. पुलिस लगातार रवि को ट्रैक करने में लगी हुई थी, जिसका नतीजा यह निकला कि आखिरकार यह शातिर अपराधी पश्चिम बंगाल के संतरागाछी स्टेशन पर पुलिस के हाथों धर ही दबोचा गया. इसका खुलासा सिटी एसपी प्रभात कुमार ने एक प्रेस वार्ता में किया.

मौके पर सिटी एसपी प्रभात कुमार के साथ डीएसपी, विधि-व्यवस्था आलोक रंजन और परसुडीह थाना प्रभारी अनिमेश गुप्ता भी उपस्थित थे. उन्होंने बताया कि जमशेदपुर के अलावा पड़ोसी जिले सरायकेला-खरसावां के आदित्यपुर समेत अन्य क्षेत्रों की पुलिस को भी रवि सिंह की कई संगीन मामलों में तलाश है. उसकी गिरफ्तारी जमशेदपुर पुलिस के लिए बड़ी सफलता मानी जा रही है.