सहरसा में बेखौफ अपराधी, पिता-पुत्र को गोली मार मौके से हुए फरार

रास्ते में मोतीबारी गांव के समीप हथियार बंद बदमाशों ने पिता हरदेव मंडल के सिर में गोली मार दी. पुत्र रमेश मंडल के सीने और कनपटी में गोली मार दी. वारदात के बाद सभी बदमाश मौके से फरार हो गए. घटना में पिता हरदेव मंडल की मौके पर ही मौत हो गई.

सहरसा में बेखौफ अपराधी, पिता-पुत्र को गोली मार मौके से हुए फरार
सहरसा में अपराधियों ने पिता-पुत्र को मारी गोली. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पूर्णिया: बिहार के सहरसा में पुरानी रंजिश में बेखौफ बदमाशों ने बाजार से घर लौट रहे बाइक सवार पिता-पुत्र को गोली मार दी. घटना में पिता की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पुत्र गंभीर रूप से घायल हो गया. घटना बीते देर शाम बसनही थाना क्षेत्र के मोतीबाड़ी गांव के समीप की बताई जाती है.

मृतक का नाम 46 वर्षीय हरदेव मंडल बताया जा रहा है जबकि घायल पुत्र का नाम रमेश मंडल है. दोनों ही मधेपुरा जिले के ग्वालपाड़ा थाना क्षेत्र के ललिया गांव के रहने वाले बताए जाते हैं. घटना के बाद जानकारी मिली कि पिता पुत्र एक बाइक पर सवार होकर एटीएम से रुपए निकालने महुआ बाजार गए हुए थे. वहां से रुपया निकालकर वापस अपने घर लौट रहे थे. 

इसी दौरान रास्ते में मोतीबारी गांव के समीप हथियार बंद बदमाशों ने पिता हरदेव मंडल के सिर में गोली मार दी. पुत्र रमेश मंडल के सीने और कनपटी में गोली मार दी. वारदात के बाद सभी बदमाश मौके से फरार हो गए. घटना में पिता हरदेव मंडल की मौके पर ही मौत हो गई जबकि गंभीर रूप से घायल पुत्र रमेश मंडल को मधेपुरा जिले के अस्पताल में भर्ती कराया गया. 

परिजनों ने पुरानी रंजिश में गांव के ही सुमन मंडल नाम के शख्स पर गोली मारने का आरोप लगाया है. बताया जा रहा है कि मृतक हरदेव मंडल का गांव के ही सुमन मंडल और उमाकांत मंडल से पूर्व से ही किसी बात को लेकर विवाद चला आ रहा था. 

वहीं घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मृतक को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज छानबीन करते हुए बदमाशों के तलाश में छापेमारी कर रही है.