झारखंड: जामताड़ा से अपहरण किए गए युवकों को अपराधियों ने किया रिहा, पुलिस कर रही जांच

 मिरगा गांव से अगवा चारों युवकों को अपहर्ताओं ने गिरिडीह के अहिल्यापुर और जामताड़ा के नारायणपुर थाना इलाके के सीमावर्ती क्षेत्र में छोड़ दिया.

झारखंड: जामताड़ा से अपहरण किए गए युवकों को अपराधियों ने किया रिहा, पुलिस कर रही जांच
अपहरणकर्ताओं ने चारों युवकों को छोड़ दिया है. (फाइल फोटो)

गिरिडीह : जामताड़ा के मिरगा गांव में युवकों से जुड़े अपहरण मामले में नया अपडेट आया है. दरअसल, मिरगा गांव से अगवा चारों युवकों को अपहर्ताओं ने गिरिडीह के अहिल्यापुर और जामताड़ा के नारायणपुर थाना इलाके के सीमावर्ती क्षेत्र में छोड़ दिया.

अपहृत तीन युवक मिरगा गांव के थे, जबकि एक युवक गिरिडीह के पिपरासिंघा के रहने वाले थे. पुलिस युवकों से पूछताछ कर रही है. जामताड़ा के मिरगा गांव के बाहर से अपहृत चारों युवकों को अपराधियों ने पुलिस की घेराबंदी देखकर बुधवार देर रात गिरिडीह सीमा पर छोड़ दिया है. 

आपको बता दें कि मंगलवार की रात को जामताड़ा के मिरगा गांव से कई अपराधियों ने चार युवक अशोक मंडल, प्रदीप मंडल, राहुल मंडल और गिरिडीह के अहिल्यापुर थाना इलाके के पिपरासिंघा निवासी बीरेंद्र मंडल को अगवा कर लिया था.

अगवा किए गए चारों युवक का परिवार आर्थिक तौर पर मजबूत है. तीन के परिवारवाले मांस के कारोबार से जुड़े हैं. जबकि एक के पिता सरकारी नौकरी में हैं. बताया जा रहा है कि अपहृत अशोक पूर्व में साइबर क्राइम के मामले में जेल भी जा चुका है.