close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

जहानाबाद: उगते सूर्य को अर्घ्य देने के लिए उमड़ी भीड़, 36 घंटे बाद खत्म हुआ निर्जला उपवास

दरधा-जमुना संगम तट पर छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं ने भोर में अर्घ्य देने के लिए घाट पर पहुंच थे. इस दौरान छठ व्रतियों ने अपनी मांगों को पूरा होने पर कई पुरानी परंपराओं का भी पालन किया.

जहानाबाद: उगते सूर्य को अर्घ्य देने के लिए उमड़ी भीड़, 36 घंटे बाद खत्म हुआ निर्जला उपवास
सूर्य को अर्घ्य देने के लिए घाटों पर उमड़ी भीड़.

जहानाबाद: लोक आस्था का महापर्व छठ (Chhath) पूजा को लेकर छठ व्रतियों ने उदयीमान सूर्य को अर्घ्य दिया.

उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही महा पवित्र पर्व छठ संपन्न हो गया.  बिहार के जहानाबाद में छठ पर्व को लेकर पूरा शहर भक्ति में नजर आया.

इस दौरान हर तरफ छठी मइया के गीत गुंजयमान रहे. जिले के विभिन्न घाटों पर पहुंचकर भगवान भास्कर को अर्पित कर करने के लिए घाटों पर छठ व्रतियों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी.

दरधा-जमुना संगम तट पर छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं ने भोर में अर्घ्य देने के लिए घाट पर पहुंच थे. इस दौरान छठ व्रतियों ने अपनी मांगों को पूरा होने पर कई पुरानी परंपराओं का भी पालन किया.

इस दौरान संगम घाट की छठ की छटा देखते ही बन रही थी. भगवान भास्कर को अर्घ्य देने के लिए शहर के दरधा जमुना संगम तट पर जनसैलाब उमड़ पड़ा.

संगम तट के दोनों ओर घाटों पर छठ व्रतियों के साथ-साथ श्रद्धालुओं ने परंपरा के अनुसार अर्घ्य देकर भगवान भास्कर को नमन किया.

छठ व्रतियों की सुविधा के लिए संगम तट पर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के साथ-साथ बड़े पैमाने पर साफ सफाई अभियान चलाकर घाटों को स्वच्छ एवं पवित्रता के रूप में देने की प्रशासनिक की पहल की गई. साथ ही जगह-जगह सीसीटीवी कैमरे और एसडीआरएफ की टीम को लगाया गया.