पटना: नए साल के पहले दिन टला बडा हादसा, हनुमान मंदिर में भीड़ हुई बेकाबू

नए साल में पूरा पटना उत्साह में डूबा नजर आ रहा है. लेकिन पटना के हनुमान मंदिर में बड़ी तादाद में श्रद्धालु बजरंगबली के दर्शन करने पहुंचे. 

पटना: नए साल के पहले दिन टला बडा हादसा, हनुमान मंदिर में भीड़ हुई बेकाबू
पटना स्टेशन के पास से श्रद्धालुओं की भीड़ आर ब्लॉक चौराहे तक पहुंच गई.

आशुतोष चंद्रा, पटना: नए साल में लोगों का उत्साह जमकर सर चढकर बोल रहा है. सबसे ज्यादा लोगों की भीड़ बिहार के पटना के हनुमान मंदिर में देखने को मिली. देखते-देखते सुबह से भीड़ इतनी ज्यादा बढ़ गई कि यह अनियंत्रित हो गई. भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को हल्का बल भी प्रयोग करना पडा. 

नए साल में पूरा पटना उत्साह में डूबा नजर आ रहा है. लेकिन पटना के हनुमान मंदिर में बड़ी तादाद में श्रद्धालु बजरंगबली के दर्शन करने पहुंचे. आलम यह रहा कि पटना स्टेशन के पास से श्रद्धालुओं की भीड़ आर ब्लॉक चौराहे तक पहुंच गई. एक किलोमीटर तक लोग बजरंगबली के दर्शन के लिए लंबी कतार में खड़े नजर आए. जिला प्रशासन को भीड़ की इतनी उम्मीद नहीं थी.

इस वजह से भीड़ को नियंत्रित करने के लिए जितनी तादाद में पुलिस के जवानों को लगाना चाहिए था उतने बल तैनात नहीं किये गए हैं. पटना एसडीएम सुहर्ष भगत ने भी कहा कि उम्मीद से ज्यादा भीड़ आने की वजह से हालात बिगड़ गए लेकिन जिला प्रशासन और पुलिस ने समय रहते हालात को संभाल लिया. 

गौरतलब है कि पटना का महावीर मंदिर उत्तर भारत में वैष्णो देवी के बाद सबसे ज्यादा दर्शन करने वाला मंदिर माना जाता है. हर रोज यहां लगभग 4 हजार लोग दर्शन करने आते हैं. लेकिन नए साल के पहले दिन यह आंकड़ा एक लाख तक पहुंच जाता है. बजरंगबली के दर्शन के लिए लोग 31 तारीख की रात 12 बजे से ही लाईन में खड़े हो जाते हैं और 1 तारीख को दोपहर 2 बजे तक दर्शन का सिलसिला चलता रहता है. 

इस बार एक तारीख का संयोग बहुत ही खास रहा. मंगलवार को एक जनवरी होने के कारण भी श्रद्धालु बड़ी तादाद में मंगलमूर्ति के दर्शन के लिए पहुंचे थे. लेकिन सही इंतजामात नहीं होने की वजह से लोगों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ा. महज ये संयोग ही था कि इतनी बडी तादाद को देखते हुए खास इंतजाम नहीं किए गए थे.