close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: गाड़ी पर प्रेस, पुलिस का स्टीकर लगाकर चलने वाले सावधान, पुलिस काटेगी चालान

सिटी एसपी ने कहा कि इस तरह के अवैध ढंग से नंबर प्लेट पर लिखकर घूमने वाले लोगों के खिलाफ नए मोटर वाहन अधिनियम के तहद सख्ती से करवाई की जाएगी. 

बिहार: गाड़ी पर प्रेस, पुलिस का स्टीकर लगाकर चलने वाले सावधान, पुलिस काटेगी चालान
प्रेस स्टीकर लिखकर धड़ल्ले से घूम रहे हैं लोग. (फाइल फोटो)

मुकेश कुमार, दरभंगा: बिहार के दरभंगा (Darbhanga) में पुलिस, प्रेस और मानवाधिकार लिखी गाड़ियों की संख्या दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही हैं. इसकी आड़ में अवैध कार्य भी किए जा रहे हैं. स्थिति ऐसी बन गई है कि मुख्य सड़क से गुजरने वाले हर 10 गाड़ी में एक-दो गाड़ी इस तरह के मिल जाती है, जिसपर पुलिस (Police), मानवाधिकार और प्रेस लिखा हुआ रहता है. सवाल है कि अचानक इनकी संख्या में बढ़ोतरी कैसे हो गई है. निश्चित रूप से सारे गलत नहीं हो सकते, लेकिन इसकी आड़ में कई लोग गलत तरीके से अपने वाहनों पर स्टीकर चिपकाकर इसका दुरुपयोग कर रहे हैं.

दरअसल, अपने गैरकानूनी कार्यों को छुपाने के लिए और दूसरे पर धौंस दिखाने के लिए भी इस तरह का काम धड़ल्ले से हो रहा है. परिवार में कोई प्रेस में है या पूर्व में कभी था, ऐसे लोगों की गाड़ियों पर से भी प्रेस कभी नहीं मिटती है. खासकर, मानवाधिकार लिखे बोर्ड की संख्या अनगिनत हो गई है.

कई सरकारी कर्मियों के वाहनों पर भी प्रेस लिखा नजर आते हैं. वहीं, सिटी एसपी ने कहा कि इस तरह के अवैध ढंग से नंबर प्लेट पर लिखकर घूमने वाले लोगों पर नए मोटर वाहन अधिनियम के तहद सख्ती से करवाई की जाएगी. 

वही, सिटी एसपी योगेंद्र कुमार ने कहा कि वाहनों के प्लेट पर बिना अथॉरिटी के लिखना गैरकानूनी है. जब से यह नया यातायात नियम आया है, उसको लेकर हमलोग विभिन तरीकों से जागरुकता अभियान चला रहे हैं. साथ ही उन्होंने कहा कि बहुत जल्द हम पूरे जिले में अभियान भी चलाने जा रहे हैं, जिसके तहत वाहन चेकिंग का अनुपालन सख्ती से करवा सकें.

लाइव टीवी देखें-:

इसके अलावा स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सहित जहां काफी संख्या में बच्चे आते हैं, वैसे जगहों पर भी जागरूकता फैलाने का काम किया जायेगा. वहीं, उन्होंने कहा कि वाहन चेकिंग के दौरान अगर गाड़ी के नंबर प्लेट पर मानवाधिकार, पुलिस और प्रेस का दुरुपयोग किया गया पाया गया तो मोटर वाहन अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए जुर्माना लिया जाएगा.