close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार में बढ़ रही डेंगू के मरीजों की संख्या, PMCH में अब तक 298 मरीजों की पुष्टि

पीएमसीएच के वायरोलॉजी लैब के प्रभारी डॉ़ सच्चिदानंद कुमार ने शनिवार को बताया कि 20 सितंबर तक कुल 298 मरीजों में डेंगू के लक्षण की पुष्टि हो चुकी है.

बिहार में बढ़ रही डेंगू के मरीजों की संख्या, PMCH में अब तक 298 मरीजों की पुष्टि
बिहार में बढ़ रही है डेंगू मरीजों की संख्या. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना : बिहार की राजधानी पटना सहित राज्य के कई हिस्सों में डेंगू (Dengue) का कहर फैलने लगा है. बिहार के सबसे बड़े अस्पताल पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल (PMCH) के वायरोलॉजी लैब के अधिकारियों के अनुसार, यहां आने वाले 298 मरीजों में डेंगू की पुष्टि हो चुकी है. इसके अलावा भी राज्य के अन्य हिस्सों में डेंगू के मरीज मिले हैं. पीएमसीएच के वायरोलॉजी लैब के प्रभारी डॉ़ सच्चिदानंद कुमार ने शनिवार को बताया कि 20 सितंबर तक कुल 298 मरीजों में डेंगू के लक्षण की पुष्टि हो चुकी है. पटना शहर में अब तक कुल 202 डेंगू के मरीज पाए गए हैं. 

उन्होंने बताया, 'शुक्रवार को आई जांच रिपोर्ट में कुल 35 मरीज डेंगू के पाए गए हैं, जिसमें से 26 पटना जिले के हैं.' इस मौसम में सीतामढ़ी, पूर्वी चंपारण, समस्तीपुर, बेगूसराय, सारण, मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, सहरसा और भागलपुर जिले के भी कई रोगियों में डेंगू के लक्षण पाए गए हैं. 

लाइव टीवी देखें-:

डॉ. कुमार ने बताया कि कुल 298 डेंगू के मरीजों के अलावा प्रदेश के अन्य हिस्सों में 18 चिकुनगुनिया और 43 जापानी इंसेलाइटिस (जेई) के मरीज मिले हैं. उन्होंने बताया कि यह आंकड़ा पिछले तीन महीने का है. हालांकि उन्होंने कहा कि इन दिनों डेंगू के मरीजों की संख्या में वृद्घि देखी जा रही है.

चिकित्सकों के मुताबिक, डेंगू मच्छरों के काटने से होता है, इस रोग में तेज बुखार के साथ शरीर पर लाल-लाल चकत्ते दिखाई देते हैं. 

पटना के सविल सर्जन डॉ़ राजकिशोर चौधरी भी मानते हैं कि हाल के दिनों में डेंगू के मरीजों की संख्या में वृद्घि हुई है. उन्होंने कहा कि अभी तक 200 से अधिक डेंगू के मरीज सामने आए हैं. उन्होंने दावा किया कि डेंगू से निपटने के लिए पूरी तैयारी की गई है. सभी अस्पतालों को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं. 

पिछले साल अक्टूबर और नवंबर के महीने में पटना में डेंगू ने जबरदस्त कहर बरपाया था. इस दौरान कई मरीजों की मौत भी हो गई थी. इधर, स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने दावा किया है कि दवा छिड़काव और प्रचार-प्रसार का किया जा रहा है. इसके अलावा नगर निगम को भी फॉगिंग करने का निर्देश दिया गया है.