close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सुशील मोदी का तेजस्वी से सवाल, कहा- 'बताएं 29 साल की उम्र में कैसे बने 5 मकानों के मालिक?'

सुशील मोदी ने पूछा कि तेजस्वी बताएं कि सदाचार की किस कमाई से वे मात्र 29 साल की उम्र में पांच मकान, 47 भूखंड सहित कुल 52 सम्पत्तियों के मालिक कैसे बन गए? 

सुशील मोदी का तेजस्वी से सवाल, कहा- 'बताएं 29 साल की उम्र में कैसे बने 5 मकानों के मालिक?'
सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव से पूछे कई सावल. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष और लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव से कई सवाल पूछे हैं. उन्होंने पूछा कि तेजस्वी बताएं कि सदाचार की किस कमाई से वे मात्र 29 साल की उम्र में पांच मकान, 47 भूखंड सहित कुल 52 सम्पत्तियों के मालिक कैसे बन गए? सुशील मोदी यहीं नहीं रुके उन्होंने लालू परिवार की संपत्तियों से संबंधित कई और सवाल पूछे हैं.

बिहार विधानसभा का शीतकालीन सत्र चल रहा है. इस दौरान राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ने सुशील मोदी पर सीबीआई का दुरुपयोग कर चारा घोटाला में लालू यादव को फसाने का आरोप लगाया है. विपक्ष का आरोप है कि सुशील मोदी का सीबीआई के आला अफसरों से सांठगांठ है.

वहीं, विपक्ष के आरोपों को नजरअंदाज करते हुए सुशील मोदी लगातार लालू परिवार की संपत्तियों पर सवाल उठा रहे हैं. उन्होंने पूछा कि तेस्वी बताए कि लालू परिवार 141 भूखंड के अतिरिक्त 30 फ्लैट और दर्जनों मकानों के मालिक कैसे बन गया? उन्होंने बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी पर सवाल उठाते हुए पूछा कि वह पटना शहर के 43 भूखंड के अलावे 30 से ज्यादा फ्लैटों की मालकिन कैसे बन गई?

उन्होंने एकबार फिर पटना के बहुचर्चित निर्मानधीन मॉल की जिक्र करते हुए तेजस्वी यादव से पूछी कि बताएं पटना के 3.5 एकड़ जमीन के मालिक कैसे बन गए, जिस पर 750 करोड़ का मॉल बन रहा था? ज्ञात हो कि कोर्ट के आदेश पर मॉल का निर्माण रोक दिया गया था. इसके अलावा सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव से पूछा कि बताएं पटना के टाटा स्टील के करोड़ों के दो मंजिला मकान के मालिक कैसे बन गए? दिल्ली के न्यू फ्रेंडस कॉलोनी में 100 करोड़ से ज्यादा के दो मंजिला मकान के मालिक कैसे बन गए?

इतना ही नहीं सुशील मोदी ने पूछा कि तेजस्वी बताएं कि आखिर 12 वर्ष की उम्र में रघुनाथ झा और कांति सिंह की क्या सेवा की, जिससे खुश होकर गोपालगंज और पटना में उन्होंने करोड़ों का दो मंजिला मकान आपको गिफ्ट कर दिया? तेजस्वी बताएं कि क्या यह सच नहीं है कि राजेश रंजन और मो. शमीम को विधान पार्षद बनाने के एवज में इन लोगों ने पटना शहर में चार प्लॉट आपके नाम कर दिए?

सुशील मोदी ने कहा कि आखिर कांति सिंह, रघुनाथ झा, ललन चैधरी, हृदयानंद चैधरी, प्रभु नाथ यादव, सुभाष चैधरी, चन्द्रकांता चैधरी, मंगरू यादव जैसे एक दर्जन लोगों ने आपके परिवार को ही करोड़ों की जमीन, सम्पत्ति क्यों गिफ्ट कर दिए? आपके पास कोई पुस्तैनी सम्पत्ति भी नहीं थी. इंटर की पढ़ाई भी नहीं कर पाये. क्रिकेट में विफल रहे. आखिर ऐसी क्या योग्यता थी, जिसके बलबूते 52 सम्पत्ति के मालिक बन गये?