धनबाद के गली-मोहल्ले दूधिया रोशनी से हुए जगमग, चौराहों का हुआ सौंदर्यीकरण

धनबाद की गलियों को और सुंदर बनाने के लिए मुख्यमंत्री ने करीब 2 करोड़ की राशि का आवंटन किया है.

धनबाद के गली-मोहल्ले दूधिया रोशनी से हुए जगमग, चौराहों का हुआ सौंदर्यीकरण
धनबाद में बड़े पैमाने पर स्ट्रीट लाइट्स लगाई गई हैं

धनबाद : सरकार अगर विकास के प्रति दृढ़ संकल्पित हो तो धरातल पर उसे उतारने में देर नहीं लगती है. यही हुआ है झारखंड के धनबाद शहर में. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने धनबाद से अंधियारे को दूर करने का जो वादा किया है, वो अब पूरा हो रहा है. शहर की गलियां अब रोशनी से जगमग हैं. हर मोहल्ले में स्ट्रीट लाइट लगाई गई हैं. अभी तक करीब 15 हज़ार स्ट्रीट लाइट्स लगाई जा चुकी हैं. और 15 इतनी ही लाइट्स लगाए जाने की योजना है.

ESL के साथ समझौता
धनबाद के मेयर चंद्रशेखर अग्रवाल ने बताया कि झारखंड सरकार ने केंद्र सरकार की कंपनी ESL के साथ समझौता किया है. इसी समझौते का परिणाम धनबाद नगर निगम में ऐसा हुआ कि अब तक यहां 14 हजार से ज्यादा नई लाइट्स लगा चुके हैं. उन्होंने बताया कि यहां सिर्फ लाइट्स ही नहीं लगाई जा रही हैं, बल्कि हर चौक-चौराहे को सुंदर बनाने की दिशा में भी काम किया जा रहा है. शहर की गलियों को और सुंदर बनाने के लिए मुख्यमंत्री ने करीब 2 करोड़ की राशि का आवंटन किया है.

धनबाद के नगर आयुक्त राजीव रंजन ने बताया कि स्टैंडिंग काउंसिल की बैठक में शहर के सभी चौक-चौराहों को दुरुस्त करने और सौंदर्यीकरण करने का प्रस्ताव पारित हुआ है. और अब दिशा में तेजी से काम चल रहा है.

खुश है आम जनता
सरकार के इस पहल पर शहर के लोगों ने प्रसन्नता जाहिर की है. यहां के लोगों का कहना है कि जब से रघुवर सरकार आई है, जनता के हित में लगातार काम किए जा रहे हैं. नगर निगम के सराहनीय प्रयास से धनबाद के चौक-चौराहों पर स्ट्रीट लाइट और बहुत सारी सुविधाएं मुहैया कराई हैं. मुख्य सड़कों के अलावा गली-मोहल्लों में भी स्ट्रीट लाइट लगी हैं, जिससे पता ही नहीं चल रहा कि यहां कभी अंधेरा था. 

मुख्यमंत्री का पद ग्रहण करने के साथ ही रघुवर दास ने झारखंड के संपूर्ण विकास का वादा किया था. अपने उस वादे को पूरा करने के लिए वे दिनरात मेहनत कर रहे हैं और उसी का नतीजा है कि आज धनबाद जैसे कई शहरों से अंधियारा दूर हो चुका है.

(एक्सक्लूसिव फीचर)