close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लातेहार: डॉक्टर नदारद, बंद पड़ा अस्पताल, ग्रामीणों ने कहा- अधिकारी नहीं सुनते शिकायत

लातेहार के महुवाडाड प्रखंड के बरदौनी गांव का हॉस्पिटल वर्षों से बंद पड़ा है. ग्रामीणों ने कहा कि अधिकारी शिकायत भी नहीं सुनते हैं.

लातेहार: डॉक्टर नदारद, बंद पड़ा अस्पताल, ग्रामीणों ने कहा- अधिकारी नहीं सुनते शिकायत
सालों से बंद पड़ा है सरकारी अस्पताल

लातेहार: सरकार गांव में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराने के लिए, हॉस्पिटल बनाने का दावा करने से नहीं थकती हैं. लेकिन झारखंड के लातेहार से जो मामला सामने आया है वो सरकार की पोल खोल रहा है.  

अधिकारियों की लापरवाही के कारण वर्षों से महुवाडाड प्रखंड के बरदौनी गांव का हॉस्पिटल बंद पड़ा है. आदिवासी बाहुल्य इस गांव की आबादी लगभग 5 हजार है. सरकार ने वर्षों पहले लाखों रूपए की लागत से भवन बनवाया था. 

हॉस्पिटल बंद रहने की शिकायत ग्रामीणों ने अधिकारियों से की लेकिन अब तक इसका कोई असर नहीं दिखाई दे रहा है. यह क्षेत्र मलेरिया जोन माना जाता है.

मलेरिया (Malaria) की चपेट में आने से इस वर्ष भी दर्जनों लोगों की जान चली गई थी, फिर भी स्वास्थ्य विभाग की नींद नहीं खुली है.

वहीं, ग्रामीणों का कहना है कि हम लोगों ने कई बार शिकायत की लेकिन अधिकारी सुनते ही नहीं हैं. अब सवाल उठता है कि भले ही सरकार गांव- गांव में स्वास्थ्य को लेकर हॉस्पिटल के निर्माण के दावे कर ले, लेकिन हकीकत सरकारी दावे से कोशों दूर है.

Palak Sharma, News Desk