झारखंड: रिटायर्ड IPS अधिकारी विशेष पर्यवेक्षक नियुक्त, नक्सली हमले के बाद EC का फैसला

मृणाल कांति दास इससे पहले, लोकसभा चुनाव के दौरान त्रिपुरा और मिजोरम में भी विशेष पुलिस पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए थे.

झारखंड: रिटायर्ड IPS अधिकारी विशेष पर्यवेक्षक नियुक्त, नक्सली हमले के बाद EC का फैसला
लातेहार में भी 4 जवान हो गए थे शहीद. (तस्वीर- ANI)

नई दिल्ली/रांची: वामपंथी उग्रवादियों से मिली धमकी के मद्देनजर झारखंड में शांतिपूर्ण विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Elections 2019) के लिए निर्वाचन आयोग ने सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारी मृणाल कांति दास को विशेष पुलिस पर्यवेक्षक नियुक्त किया है. 1977 बैच के मणिपुर-त्रिपुरा कैडर के आईपीएस अधिकारी दास ने साल 2013 के नवबंर में मणिपुर पुलिस प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया था.

चुनाव आयोग ने अपने बयान में कहा, "निर्वाचन आयोग ने झारखंड में कानून और व्यवस्था की स्थिति को प्रभावित करने वाली वामपंथी उग्रवाद की चुनौतियों के मद्देनजर लिया."

दास रांची पहुंचकर अपने नए दायित्वों को संभालेंगे और इसके साथ ही तैनाती और सुरक्षा संबंधी मुद्दों की भी देखरेख करेंगे. दास इससे पहले, लोकसभा चुनाव के दौरान त्रिपुरा और मिजोरम में भी विशेष पुलिस पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए थे.

ज्ञात हो कि विधानसभा चुनाव के पहले नक्सलियों ने शुक्रवार को झारखंड के लातेहार जिले के चंदवा थाना क्षेत्र में पुलिस वैन पर हमला कर दिया, जिसमें 1 एएसआई सहित 4 पुलिसकर्मी शहद हो गए थे. शहीद पुलिसकर्मियों की पहचान एएसआई सुकरा उरांव, जवान सिकंदर सिंह, जवान शम्भू प्रसाद और चालक जमुना प्रसाद के रूप में की गई है. हमले के दौरान नक्सलियों के द्वारा पुलिसकर्मियों के हथियार भी लूटे जाने की सूचना है.

(IANS इनपुट)