रांची: CEC बोले- बांग्लादेशी घुसपैठियों पर EC की नजर, दिव्यांग-बुजुर्गों को मिलेगी ये सुविधा

Jharkhand assembly election 2019: पहली बार दिव्यांग और 80 साल से ज्यादा आयु के बुजुर्ग मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट से मतदान करने की सुविधा दी जा रही है. 

रांची: CEC बोले- बांग्लादेशी घुसपैठियों पर EC की नजर, दिव्यांग-बुजुर्गों को मिलेगी ये सुविधा
मुख्य निर्वाचन आयुक्त हैं सुनील अरोड़ा. (फाइल फोटो)

रांची: मुख्य निर्वाचन आयुक्त (Chief Election Commissioner) ने झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 (Jharkhand assembly election 2019) की तैयारियों को लेकर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया. इस दौरान मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील अरोड़ा (Sunil Arora) ने कहा कि चुनाव प्रक्रिया में मतदान के योग्य दिव्यांग नागरिकों और बुजुर्गों की सहभागिता को बेहतर ढंग से सुनिश्चित करने के लिए यह एक अच्छी पहल है. 

बता दें कि पहली बार दिव्यांग और 80 साल से ज्यादा आयु के बुजुर्ग मतदाताओं के लिए पोस्टल बैलेट से मतदान करने की सुविधा दी जा रही है. चुनाव आयोग ने निर्णय लिया है कि सवेंदनशील इलाकों में विशेष ध्यान दिया जाएगा. 24 में से 19 जिले लेफ्ट और माओवादी से प्रभावित हैं.

उन्होंने कहा कि लेफ्ट और माओवादी प्रभावित क्षेत्रों के लिए केंद्र से फोर्स मांगा गया है और यहां पर जल्द ही उन्हें तैनात किया जाएगा. अरोड़ा ने कहा कि मतदान के दौरान 29 हज़ार 334 वीवीपैट (VVPAT) का इस्तेमाल होगा. उन्होंने कहा कि बांग्लादेशी घुसपैठ मामले आयोग नजर रख रहा है.

अरोड़ा ने कहा कि राजनीतिक दलों की शिकायतों का निपटारा किया गया है. साथ ही चुनाव आयोग ने राजनीति दलों की बातों को गंभीरतापूर्वक लिया है. गौरतलब है कि झारखंड की 81 विधानसभा सीटों पर 30 नवंबर से 20 दिसंबर के बीच पांच चरणों में मतदान होगा. जबकि राज्य सभी विधानसभा सीटों पर वोटों की मतगणना 23 दिसंबर को होगी.