वाल्मीकिनगर लोकसभा सीट पर चुनाव के लिए मुस्तैद आयोग, जारी किए जरूरी गाइडलाइंस

बिहार के वाल्मिकीनगर लोकसभा सीट पर उपचुनाव की तैयारियों को लेकर डीएम पश्चिम चंपारण ने की समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को कई जरूरी निर्देश दिए.

वाल्मीकिनगर लोकसभा सीट पर चुनाव के लिए मुस्तैद आयोग, जारी किए जरूरी गाइडलाइंस
वाल्मीकिनगर लोकसभा सीट पर चुनाव के लिए मुस्तैद आयोग, जारी किए जरूरी गाइडलाइंस.

वाल्मीकिनगर: बिहार के वाल्मिकीनगर लोकसभा सीट पर उपचुनाव की तैयारियों को लेकर डीएम पश्चिम चंपारण ने की समीक्षा बैठक की और अधिकारियों को कई जरूरी निर्देश दिए. जिला निर्वाचन पदाधिकारी कुंदन कुमार ने कुछ गाइडलाइंस जारी किए जिसका पालन करने का निर्देश डीएम ने दिया है.

पश्चिम चंपारण जिला निर्वाचन पदाधिकारी कुंदन कुमार ने कहा कि निर्वाचन विभाग द्वारा जारी दिशा-निर्देश के बिहार में विधानसभा आम निर्वाचन 2020 निर्धारित अवधि में कराया जाना संभावित है. इसके साथ ही 01-वाल्मीकिनगर लोकसभा उप निवार्चन भी सम्पन्न कराया जाना है. निर्वाचन कार्य अत्यंत ही महत्वपूर्ण है. 

इस कार्य में थोड़ी सी भी चूक नहीं होनी चाहिए. सभी संबंधित अधिकारी निर्वाचन विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन का अक्षरशः पालन करेंगे. 

उन्होंने कहा कि विधानसभा आम निर्वाचन 2020 एवं 01-वाल्मीकिनगर लोकसभा उप निर्वाचन के मद्देनजर सभी अधिकारियों को पूरी सावधानीपूर्वक अपने कर्तव्यों का निवर्हन करना होगा. जिलाधिकारी समाहरणालय सभाकक्ष में सभी निर्वाची पदाधिकारियों एवं विभिन्न कोषांगों के नोडल पदाधिकारियों को निदेशित कर रहे थे.

जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि निर्वाचन विभाग द्वारा उपलब्ध कराये गये इलेक्शन प्लानर के साथ-साथ हैण्ड बुक ऑफ आरओ का गहन अध्ययन सभी पदाधिकारी कर लें. माइक्रो लेवल पर प्लान करने की जरूरत है. पूरी सावधानी के साथ निर्वाचन प्रक्रिया को सफल करना है. ऐसा प्रयास करना है कि छोटी सी चूक भी नहीं हो. कोविड-19 की परिस्थितियों के मद्देनजर विभाग द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों के आलोक में तैयारी सुनिश्चित करें.

उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया में प्रशिक्षण कोषांग का अत्यंत ही महत्वपूर्ण योगदान है. निर्वाचन अधिकारियों एवं कर्मियों का प्रथम प्रशिक्षण निर्वाचन अधिसूचना के पूर्व कर लेना होगा. प्रशिक्षण कोषांग के नोडल पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि अधिकारियों एवं कर्मियों को प्रशिक्षित करने हेतु सभी तैयारियां की जा रही है. 

इसके लिए एमजेके कॉलेज एवं आरएलएसवाई कॉलेज का चयन प्रशिक्षण स्थल के रूप में कर लिया गया है. शीघ्र ही प्रशिक्षण कार्यक्रम बनाकर अधिकारियों एवं कर्मियों को प्रशिक्षित किया जायेगा तथा कोविड-19 से संबंधित सावधानियां भी बरती जायेगी.

कार्मिक कोषांग की समीक्षा के दौरान जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि शत-प्रतिशत कर्मियों का डाटाबेस अद्यतन किया जाय. कार्मिक कोषांग के नोडल पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि अबतक 98 प्रतिशत कर्मियों का डाटाबेस तैयार कर लिया गया है शेष बचे कर्मियों का डाटाबेस शीघ्र ही बना लिया जायेगा.