कोरोना जांच पर राबड़ी के ट्वीट पर JDU बोली-पूरे देश में हो रही बिहार मॉडल की तारीफ

आरजेडी और कांग्रेस जहां राबड़ी के ट्वीट का समर्थन जता रही है तो, वहीं जेडीयू ने राबड़ी पर पलटवार किया है. जेडीयू का कहना है कि, राबड़ी देवी के ट्वीट का कोई अर्थ नहीं है.  

कोरोना जांच पर राबड़ी के ट्वीट पर JDU बोली-पूरे देश में हो रही बिहार मॉडल की तारीफ
राबड़ी देवी (Rabri Devi) के ट्वीट पर जुबानी जंग तेज हो गई है. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी (RJD) नेता राबड़ी देवी (Rabri Devi) के ट्वीट पर जुबानी जंग तेज हो गई है. आरजेडी और कांग्रेस जहां राबड़ी के ट्वीट का समर्थन जता रही है तो, वहीं जेडीयू ने राबड़ी पर पलटवार किया है. जेडीयू का कहना है कि, राबड़ी देवी के ट्वीट का कोई अर्थ नहीं है.

कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने राबड़ी के ट्वीट का समर्थन करते हुए कहा कि, सरकार पूरी तरह कोरोना से निपटने में असफल रही है. बीजेपी जब विपक्ष में रहती है तो वो, राम राम करती है और सत्ता में आने पर जनता को राम भरोसे छोड़ देती है. जनता त्राहिमाम कर रही है और केंद्र के साथ राज्य सरकार चुनाव में व्यस्त है.

वहीं, आरजेडी प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने कहा कि, ये बिल्कुल सही बात है. बिहार में अगर ईमानदारी से कोरोना जांच हो तो एक लाख से अधिक लोग संक्रमित पाए जाएंगे. आरजेडी नेता ने पूछा कि, बिहार में जांच को लेकर कोई विशेष व्यवस्था है क्या? रैंडम सैंपलिंग का क्या इंतजाम है? सरकारी अस्पताल अब बेदम साबित हो रहे हैं और सरकार को अब जनता से क्या मतलब है.

इधर,जेडीयू राबड़ी देवी के ट्वीट से सहमत नहीं है. जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि, पूरे भारत में बिहार मॉडल की तारीफ हुई है. खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बिहार की तारीफ की है. विपरीत हालात में भी कोरोना से निपटने के लिए बेहतर इंतजाम किए हैं. राबड़ी देवी के ट्वीट का कोई अर्थ नहीं है.

बता दें कि, राबड़ी देवी ने बिहार की नीतीश कुमार (Nitish Kumar) सरकार पर कोरोना जांच में लापरवाही का आरोप लगाया है. राबड़ी देवी ने बिहार में कोरोना वायरस (Coronavirus) की हो रही जांच पर सवाल उठाते हुए लिखा, 'बिहार का बहुचर्चित कोरोना मॉडल विश्व के बाकी देश अपना ले तो एक सेकंड में कोरोना वायरस खत्म हो जाएगा. ना कोई कोरोना जांच, ना कोई मामला. ना वेंटिलेटर और ना हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर की चिंता और ऊपर से सबसे कम केस का खिताब. कोई मरता है तो बोल दो, दूसरी बीमारी से मरा है. सिम्पल.'

इसके साथ ही, राबड़ी देवी ने एक पोस्टर भी शेयर किया था. जिसमें लिखा है, 'बिहार में दूसरे राज्यों के मुकाबले कोरोना की टेस्टिंग कम क्यों हो रही है? जवाब दो जनता को, क्या यही तुम्हारा सुशासन है.' गौरतलब है कि, तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) भी लगातार कोरोना जांच पर सवाल उठाते रहे हैं.