झारखंड: लगातार बारिश से किसान परेशान, गांवों में उजड़े कई घर, फसल हुई बरबाद

झारखंड के गढ़वा में पिछले तीन दिनों से हो रही बारिश और वज्रपात ने कहर बरपाया है. इससे लोग डरे और सहमे हुए हैं.

झारखंड: लगातार बारिश से किसान परेशान, गांवों में उजड़े कई घर, फसल हुई बरबाद
पिछले तीन दिनों से हो रही बारिश और वज्रपात ने कहर बरपाया है.

गढ़वा: झारखंड के गढ़वा में पिछले तीन दिनों से हो रही बारिश और वज्रपात ने कहर बरपाया है. इससे लोग डरे और सहमे हुए हैं. पहली घटना बेलपहाड़ी गांव के उरांव टोला की है. यहां कृष्णा उरांव का पुराना पक्का मकान पूरी तरह से ध्वस्त हो गया. ये संयोग था कि कृष्णा का पूरा परिवार घर के बगल में ही छज्जे के नीचे सोया हुआ था.

वहीं, दूसरी घटना मकरी बरवाबांध टोला की है यहां वज्रपात से 35 वर्षीय महिला गंभीर रूप से घायल हो गई. परिजनों ने इलाज के लिए स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया,वहीं रंका थाना क्षेत्र के शेरशाम में वज्रपात की घटना में दो पशुओं की मौत हो गई.

इसके अलावा ओलावृष्टि से खेत में लगी किसानों की फसल बुरी तरह से बर्बाद हो गई. किसानों को समझ में नहीं आ रहा है कि इस प्रकृति की मार से करें तो क्या करें. जिले के अन्य क्षेत्रों से भी पशुओं की मरने की खबर आई है तो वहीं, गोदरमाना गांव में सड़क पर पेड़ और कइयों के घर उजड़ गए है.

जबकि जिले की कई नदियां कोयल, दानरो, बाईबांकी, सोन, कनहर नदियां पूरे उफान पर है. जिले में इस तरह की गर्मी के दिनों में बारिश से लोग सकते में है. झारखंड में लगातार हो रही बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की चिंता बढ़ा दी है.

वहीं, बीजेपी ने किसानों के नुकसान की भरपाई की मांग की है. बीजेपी नेता बाबूलाल मरांडी ने जल्द ही नुकसान का आकलन कर भरपाई की मांग की है. वहीं, जेएमएम महासचिव सुप्रियो भट्टाचार्य ने जल्द ही किसानों को उचित मुआवजा देने की बात कही है.