लखीसराय: किसानों ने किया विरोध प्रदर्शन, कृषि अधिकारी पर लगाए गंभीर आरोप

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि स्थिति यह है कि कृषि समन्वयक के खास लोगों को ओटीपी प्राप्त हो रहा है, जबकि अन्य किसान सुविधा से वंचित रह रहे हैं.

लखीसराय: किसानों ने किया विरोध प्रदर्शन, कृषि अधिकारी पर लगाए गंभीर आरोप
किसानों ने गेंहू का बीज नहीं मिलने पर विरोध प्रदर्शन किया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

लखीसराय: बिहार के लखीसराय जिले के बड़हिया प्रखंड कार्यालय स्थित ई-किसान भवन परिसर में खुटहा पूर्वी पंचायत के किसानों ने नारेबाजी व विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने कहा कि अक्टूबर महीने से ही किसानों को गेहूं बीज की आपूर्ति नहीं हो पा रही है. जबकि कृषि समन्वयक संजय सिंह के करीबी किसानों के मोबाइल पर ओटीपी भेजकर बीज आपूर्ति लगातार जारी है.

किसानों का कहना है कि ऑनलाइन आवेदन के उपरांत सब्सिडी युक्त बीज प्राप्त करने वाले किसान के मोबाइल पर एक ओटीपी भेजा जाता है. इसके बाद कार्यालय द्वारा ओटीपी प्राप्त कर बीज निर्गत किया जाता है.

प्रदर्शनकारियों ने कहा कि स्थिति यह है कि कृषि समन्वयक के खास लोगों को ओटीपी प्राप्त हो रहा है, जबकि अन्य किसान सुविधा से वंचित रह रहे हैं. उन लोगों ने कहा कि इस कारण किसान बाजार से महंगे बीज खरीदने को मजबूर हैं. 

किसानों की भीड़ को परिसर में देख कृषि पदाधिकारी श्रवण कुमार अपने कक्ष में ताला लगाकर कार्यालय से निकल गए, जबकि उनकी अनुपस्थिति के बीच ताला लटके उनके कक्ष के आगे किसानों ने विरोध प्रदर्शन सहित कृषि समन्वयक को हटाए जाने की मांग की..

इस संबंध में बीओ श्रवण कुमार ने कहा कि सारे आरोप निराधार और बेबुनियाद हैं. किसानों के मोबाइल पर ओटीपी जिला कृषि पदाधिकारी के द्वारा निर्गत किया जाता है. ओटीपी प्राप्त किसानों को बीज उपलब्ध कराने का कार्य लगातार जारी है.