पटना: बेटे को जंजीर में बांधकर NMCH पहुंचा बुजुर्ग पिता, दिलाना चाहता है नशा से मुक्ति

युवक की हरकत से उसके परिजन काफी परेशान हो गए और उसे जंजीरों से बांधकर रखने लगे. पीड़ित पिता का कहना था कि पिछले एक वर्ष से गलत संगत होने के कारण उनका पुत्र नशे का आदी बन चुका है.

पटना: बेटे को जंजीर में बांधकर NMCH पहुंचा बुजुर्ग पिता, दिलाना चाहता है नशा से मुक्ति
नशे का आदी बन चुके बेटे को जंजीर में बांधकर NMCH पहुंचा पिता.

पटना: राजधानी पटना का दूसरा बड़ा नालंदा मेडिकल कॉलेज अस्पताल के नशा मुक्ति केंद्र के पास अजीबो-गरीब नजारा देखने को मिला. यहां एक पिता अपने पुत्र को कैदी की तरह जंजीर में जकड़े हुए दिखे. बेटे के दोनों हाथ जंजीर से बंधे थे और जंजीर में ताला लगा हुआ था. 

दरअसल मामला सहरसा जिले के दिवारी गांव का है, यहां के रहने वाले शुभाष चंद्र यादव का बेटा पूरी तरह नशे का आदि बन चुका था. नशे में धुत युवक की घर से बाहर तक लोगों के साथ लड़ाई और मारपीट करता था. उसकी ये आदत लोगों के लिए परेशानी का सबब बन गई थी. 

युवक की हरकत से उसके परिजन काफी परेशान हो गए और उसे जंजीरों से बांधकर रखने लगे. पीड़ित पिता का कहना था कि पिछले एक वर्ष से गलत संगत होने के कारण उनका पुत्र नशे का आदी बन चुका है.

नशे के लत छुड़ाने के लिए पूरा परिवार परेशान है. बेटे को नशा से मुक्ति दिलाने के लिए पिता एनएमसीएच (NMCH) के नशा मुक्ति केंद्र पहुंचे. पर रविवार होने के कारण यहां मरीज की भर्ती नही ली जा रही है. उनका कहना है कि बेटा के नशे की लत छुड़ाने के लिए नशा मुक्ति केंद्र का चक्कर लगा रहे है कि कहीं तो उसके बेटे का सही इलाज होगा और वो पहले की तरह सामान्य जिंदगी गुजारेगा.