कटिहार: पिता ने की बेटे की हत्या, गोली मारने के बाद मरने का करता रहा इंतजार

एक तरफ जहां देश आजादी के जश्न में डूबा था वहीं दूसरी तरफ बिहार के कटिहार में एक हाइवे के लिए पिता ने बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी.

कटिहार: पिता ने की बेटे की हत्या, गोली मारने के बाद मरने का करता रहा इंतजार
पिता कोई और नहीं रिटायर फौजी था जिसने इस घटना को अंजाम दिया. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कटिहार: एक तरफ जहां देश आजादी के जश्न में डूबा था वहीं दूसरी तरफ बिहार के कटिहार में एक हाइवे के लिए पिता ने बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी. पिता कोई और नहीं रिटायर फौजी था जिसने इस घटना को अंजाम दिया. 

रिटायर्ड फौजी तेजनारायण यादव और बेटे विनोद यादव की सुबह घर में बहस हो गई जिसके बाद पिता ने गोलियों से अपने बेटे को छलनी कर दिया. इतना ही नहीं पिता गोली मारने के बाद बेटे के मरने का इंतजार करता रहा. जब विनोद यादव की सांसें थम गई तब पिता लाइसेंसी राइफल लेकर फरार हो गया. 

बेटे की मौत के बाद घर में कोहराम मच गया. मृतक विनोद यादव की पत्नी अपने ससुर की इस करतूत के बाद बेहोश हो गई है. आसपास के लोग भी इस मामले में काफी शॉक्ड हैं कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है. 

हालांकि स्थानीय लोगों की माने तो आए दिन तेजनारायण शराब पीकर घर में हंगामा किया करता था जो बेटे को पसंद नहीं था. वहीं, मृतक विनोद एक सामाजिक कार्यकर्ता था और अपने पिता के करतूतों का हमेशा विरोध करता था. उसने अपने पिता के रवैये के खिलाफ मनिहारी थाने में शिकायत भी दर्ज करवाई थी. लोगों का पिता के ऐसी करतूत पर फांसी की सजा की मांग की है.