close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: दाने-दाने को मोहताज बाढ़ प्रभावित, हाथों में खाली थाली लिए खाना का कर रहे इंतजार

घर में पानी आ गया है. न प्लास्टिक की व्यवस्था, न चूड़ा का. लोग भूखे हैं. बाढ़ प्रभावित लोगों का कहना है कि वे चार दिनों से भूखे हैं. 

बिहार: दाने-दाने को मोहताज बाढ़ प्रभावित, हाथों में खाली थाली लिए खाना का कर रहे इंतजार
बाढ़ प्रभावित भूख से परेशान. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कटिहार: बिहार के विभिन्न हिस्सों में बीते दिनों हुई बारिश से लोग परेशान हैं. बिहार के कटिहार में बाढ़ प्रभावित लोग दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं. मनिहारी अनुमंडल के बघार पंचायत का महादलित परिवार और मासूम भूख मिटाने की खातिर थाली लेकर भटक रहे हैं. प्रशासन का दावा है कि सामुदायिक रसोई से प्रभावित लोगों को खाना दिया जा रहा है.

घर में पानी आ गया है. न प्लास्टिक की व्यवस्था, न चूड़ा का. लोग भूखे हैं. बाढ़ प्रभावित लोगों का कहना है कि वे चार दिनों से भूखे हैं. खाना का इंतजार कर रहे हैं. गंगा से स्थानीय लोग त्रस्त हो गए हैं. ऊपर से बारिश भी. भूख से परेशान लोग पेट मे गमछा बांधकर सड़क पर ही सो गए. लोगों को कहना है कि उन्हें बारिश से बचने के लिए पॉलिथीन तक नहीं दी गई.

लाइव टीवी देखें-:

वहीं, मनिहारी प्रखंड की बीडीओ छाया कुमारी का दावा है कि प्रभावितों को प्लास्टिक मिल गया है. कम्यूनिटी किचन खोल दिया गया है. स्थिर होकर खाना है. पीने के पानी के लिए दो हैंडपंप हैं. उन्होंने लोगों से सहयोग की अपील की है ताकि एक टाइम खाना का व्यवस्था हो सके.

एक तरफ भूख पर प्रशासनिक पदाधिकारी अपील कर रहे हैं कि स्थिर होकर खाना है. वहीं, सामुदायिक किचन की जानकारी बाढ़ पीड़ितों को है ही नहीं. प्रभावित खाली थाली और खाली पेट के साथ टकटकी लगाए हुए हैं. परिवार और उनके मासूमों को सिर्फ और सिर्फ अन्न के दाने का इंतजार है.