close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार में बाढ़ जैसे हालात, CM नीतीश ने केंद्र से फरक्का डैम से पानी छोड़ने का किया अनुरोध

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पीके मिश्रा से फरक्का बराज के कारण बिहार में गंगा के जलस्तर में हो रही बढ़ोतरी पर बात की.

बिहार में बाढ़ जैसे हालात, CM नीतीश ने केंद्र से फरक्का डैम से पानी छोड़ने का किया अनुरोध
सीएम नीतीश ने हाल ही में गंगा के बढ़े जलस्तर का किया हवाई सर्वेक्षण.

पटना : बिहार में एकबार फिर बाढ़ की स्थिति भयावह होती जा रही है. गंगा (Ganga) समेत कई नदियां उफान पर हैं. इतना ही नहीं, गंगा नदी के जलस्‍तर में बढ़ोतरी के कारण पटना और आसपास के इलाकों में भी पानी प्रवेश कर गया है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) लगातार बाढ़ पर नजर बनाए हुए हैं और अधिकारियों को निर्देश दे रहे हैं.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव पीके मिश्रा से फरक्का बराज के कारण बिहार में गंगा के जलस्तर में हो रही बढ़ोतरी पर बात की. मुख्यमंत्री ने कहा कि फरक्का बराज से समुचित जलश्राव को सुनिश्चित कराया जाए. पानी नहीं निकलने की स्थिति में बिहार में बाढ़ जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाएगी.

बगहा के कई इलाकों में गंडक नदी का कटाव जारी है. लोग पलायन को मजबूर हो गए हैं. इन्हें किसी तरह की सरकारी सहायता नहीं मिल रही है. नेपाल के तराई क्षेत्र सहित जिले में लगातार तीन दिनों तक हुई बारिश के बाद गंडक नदी का जलस्तर बढ़ गया है. इससे बगहा के दियारा के निचले इलाकों में तबाही मच गई है. दियारा के ठकराहा प्रखंड के धुमनगर में कटाव तेज़ हो गया है.

बताया जा रहा है कि खेती की जमीन के साथ कई घर और पेड़-पौधे नदी में विलीन हो चुके हैं. जलस्तर में बढ़ोतरी होने से यूपी बिहार सीमा पर एपी तटबंध पर लगातार गंडक का दबाव और कटाव से बड़ा ख़तरा नजर आ रहा है. इधर जल संसाधन विभाग की ओर से अब तक कोई भी बचाव या राहत कार्य शुरू नहीं किया गया है. गंडक नदी के कटाव से दहशत के कारण ग्रामीणों का ऊंचे स्थानों और यूपी की ओर पलायन जारी है.