झारखंड चुनाव: पाकुड़ में दिव्यांग-बुजुर्ग वोटर्स के लिए पोस्टल बैलेट की व्यवस्था, मिलेगी सहुलियत

दिव्यांग व 80 वर्ष के उपर मतदाताओं के पास यह विकल्प होगा कि वो या तो पोस्टल बैलेट से मतदान करें या फिर मतदान केंद्र पर आकर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करें. पोस्टल बैलेट से वोट देने के लिए ऐसे मतदाताओं को फॉर्म 12 डी दिया जाएगा.

झारखंड चुनाव: पाकुड़ में दिव्यांग-बुजुर्ग वोटर्स के लिए पोस्टल बैलेट की व्यवस्था, मिलेगी सहुलियत
फॉर्म 12 (डी) में यह मार्क कर देना होगा कि वे किस माध्यम से मतदान करना चाहते हैं.

पाकुड़:  झारखंड विधानसभा चुनाव में एक भी मतदाता न छूटे इसके लिए दिव्यांग और 80 वर्ष या उससे उपर उम्र के बुजुर्ग मतदाताओं की सहूलियत को लेकर निर्वाचन आयोग ने पोस्टल बैलेट की व्यवस्था की है. जिला प्रशासन की और से इसकी तैयारी की गई है.

दिव्यांग व 80 वर्ष के उपर मतदाताओं के पास यह विकल्प होगा कि वो या तो पोस्टल बैलेट से मतदान करें या फिर मतदान केंद्र पर आकर अपने मताधिकार का इस्तेमाल करें. पोस्टल बैलेट से वोट देने के लिए ऐसे मतदाताओं को फॉर्म 12 (डी) दिया जाएगा. मतदाताओं के घर-घर जाकर बूथ लेवल एजेंट के माध्यम से फॉर्म 12 (डी) पहुंचाया जाएगा.

ऐसे मतदाताओं को नामांकन प्रक्रिया के पांचवें दिन तक उपलब्ध कराए गए फॉर्म 12 (डी) में यह मार्क कर देना होगा कि वे किस माध्यम से मतदान करना चाहते हैं. इसे वह डाक से निर्वाचन पदाधिकारी को वापस करेंगे.

जिले में पांचवे चरण में तीनों विधानसभा क्षेत्र लिट्टीपाड़ा, पाकुड़ व महेशपुर विधानसभा में चुनाव है. चुनाव की अधिसूचना 26 नवंबर को जारी कर दी गई है. नामांकन की आखिरी तारीख तीन दिसंबर है. ऐसे में एक दिसंबर तक ऐसे मतदाताओं को फॉर्म 12 (डी) में मतदान किस माध्यम से करना चाहते हैं, मार्क करके डाक से निर्वाचन पदाधिकारी को भेजना होगा. मतदाताओं को फॉर्म 12 (डी) के साथ डाक करने के लिए टिकट लगा लिफाफा भी दिया जाएगा.

आगे निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय द्वारा फॉर्म 12 (डी) मिलने के बाद समीक्षा की जाएगी.फॉर्म की गणना कर विकल्प मार्क किया जायेगा.इसके बाद पोलिंग टीम की ओर से पोस्टल बैलेट घर-घर पहुंचाया जाएगा. उल्लेखनीय हो कि जिले के तीनों विधानसभा क्षेत्रों में 80 वर्ष से ज्यादा उम्र वाले बुजुर्ग मतदाताओं की संख्या 6,470 है.और दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 9,679 हैं.