close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नवादा: 30 लाख के लिए दोस्त ने किया अपहरण, पकड़े जाने के डर से छोड़ा

एसपी हरि प्रसाथ एस के दिशा निर्देश पर चार दिन पहले घर से खेलने के लिए निकला 14 वर्षीय बच्चे को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया गया.

नवादा: 30 लाख के लिए दोस्त ने किया अपहरण, पकड़े जाने के डर से छोड़ा
अपहृत बच्चे को सकुशल बरामद किया गया है.

नवादा: बिहार की नवादा पुलिस ने अपहरण के एक बड़े मामले को सुलझा लिया है. एसपी हरि प्रसाथ एस के दिशा निर्देश पर चार दिन पहले घर से खेलने के लिए निकला 14 वर्षीय बच्चे को अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुड़ाया गया.

अपहृत बच्चे को सकुशल बरामद किया गया है. नगर के कन्हाई नगर निवासी राजीव कुमार राजू के 13 वर्षिय बेटे लक्ष्यराज का 22 सितंबर को 11 बजे दिन में घर से खेलने के लिए निकला था जिसे उसके अपने ही दोस्त चिंटू कुमार ने मोटरसाइकिल पर बिठाकर झांसा देकर पकरीबरवां ले गया जहां बाद में उसे अन्य चार अपहरणकर्ताओं के मदद से कौआकोल ले जाया गया.

 

अपहरण के एक दिन बाद अपहरणकर्ताओं ने पिता के मोबाईल पर फोन कर 30 लाख रूपये की मांग की. पिता राजीव कुमार राजू ने पुलिस को जानकारी दी पुलिस ने सूचना पश्चात के बाद मामला दर्ज करते हुए एक एसआईटी का गठन किया.

एसपी ने बताया कि अनुसंधान के दौरान पुलिस द्वारा पकरीबरावां थाना क्षेत्र के कपसंडी गांव से अपहरण की घटना में प्रयुक्त बाइक बरामद की गई और कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी गई.  तीव्र गति से छापेमारी शुरू कर दिया. इसी क्रम में अपहृत बच्चे के दोस्त को कौआकोल थाना क्षेत्र के भोरमबाग पहाड़ी के पास से गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार अपराधी के निशानदेही पर पुलिस ने कार्रवाई शुरू की. 

पुलिस ने कि बढ़ती दबिश के बाद अपहरणकर्ताओं ने बुधवार की सुबह भोरमबाग पहाड़ी के निकट बच्चे को छोड़कर फरार हो गया. पुलिस की तत्परता से अपहरण के 70 घंटे के अंदर अपहृत बालक को सकुशल बरामद कर लिया गया. उन्होंने बताया कि शेष अपराधियों को भी चिन्हित कर लिया गया है जिनकी गिरफ्तारी जल्द की जाएगी.