बाराती बने 'मेंढक' कईयों के कटे चालान, तो कईयों ने उछल-उछलकर जमकर लगाई छलांग

Kaimur Samachar: एक टाटा मैजिक पर दर्जनों लोग सवार होकर मोहनिया की तरफ जा रहे थे. पुलिस की पूछताछ में उनके द्वारा अपने आपको बाराती बताया गया.

बाराती बने 'मेंढक' कईयों के कटे चालान, तो कईयों ने उछल-उछलकर जमकर लगाई छलांग
बाराती बने 'मेंढक' कईयों के कटे चालान.

Kaimur: कैमूर जिले में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए कैमूर पुलिस लगातार प्रयासरत है. बेवजह बाहर निकलने वाले लोगों पर पुलिस की तिरछी नजर है. पुलिस मजे के लिए बाहर निकलने वालों को बख्शने के बिलकुल मूड में नहीं है. इसके लिए वो जहां लोगों को समझा रही है, वहीं हल्के बल का प्रयोग करने से भी पीछे नहीं हट रही. 

इसी क्रम में भभुआ के एकता चौक के पास एक टाटा मैजिक पर दर्जनों लोग सवार होकर मोहनिया की तरफ जा रहे थे. पुलिस की पूछताछ में उनके द्वारा अपने आपको बाराती बताया गया. जिसके बाद सभी लोगों को पुलिस ने मैजिक से उतारकर सड़क पर मेंढक बनवा कर छलांग लगवाई. साथ ही जो लोग बिना मास्क के दिखाई दिए उनका चालान भी काटा गया.

ये भी पढ़ें- कोरोना की तीसरी लहर की तैयारी में जुटा प्रशासन, गया को ऑक्सीजन उत्पादन में बना रहा 'आत्मनिर्भर'

जानकारी देते हुए भभुआ थाना के एसआई रणवीर कुमार ने बताया, 'लॉकडाउन का पालन कराने के लिए लगातार लोगों से अपील की जा रही है. फिर भी कई लोग बेवजह सड़कों पर घूमते हुए दिखाई दे रहे हैं. ऐसे लोगों को हमने पनिश भी किया है. साथ ही कुछ लोग जो जो बिना मास्क के होते हैं उनका चालान भी काटा जा रहा है.'

वहीं, घटना को लेकर एसआई का कहना है कि यह सभी लोग बारात में जाने के लिए एक ही मैजिक पर सवार थे. जबकि बारात में केवल 20 लोगों को ही जाने की परमिशन है. इसी वजह से इन सभी लोगों को पनिश किया गया है.'

(इनपुट- मुकुल जायसवाल)