close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: गिरिराज सिंह के बयान पर गरमाई बिहार की सियासत, JDU ने किया किनारा

आरजेडी के प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने कहा है कि मीडिया में बने रहने के लिए गिरिराज सिंह ऐसे बयान देते रहते हैं. मैं उनके बयान को तवज्जो नहीं देता हूं. वह इसी तरह आग लगाने वाले, देश को तोड़ने और बांटने वाले और नफरत फैलाने वाले बयान देते रहते हैं.

बिहार: गिरिराज सिंह के बयान पर गरमाई बिहार की सियासत, JDU ने किया किनारा
गिरिराज सिंह के बयान पर सियासत गरमाई.

पटना: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के फायरब्रांड नेता और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह के बयान पर बिहार की राजनीति एकबार फिर गरमा गई है. जनता दल युनाइटेड (JDU) ने गिरिराज सिंह के बयान को उनकी सोच बताया है वहीं, राष्ट्रीय जनता दल (RJD) ने कहा है कि गिरिराज जैसे नेताओं से देख को खतरा है न कि मुसलमानों से. वहीं, बीजेपी ने उनके बयान को सही बताते हुए बिहार के लोगों को विचार करने की सलाह दी है. 

बीजेपी के फायरब्रांड नेता गिरिराज सिंह अपने बयानों और ट्वीट से हमेशा चर्चा में बने रहते हैं. बिहार में उपचुनाव के परिणाम आने के बाद फिर से ट्वीट कर गिरिराज सिंह ने राजनीति गरमा दिया है. गिरिराज के ट्वीट के बाद आरजेडी के दो नेताओं ने निशाना साधा है.

आरजेडी के प्रवक्ता भाई वीरेंद्र ने कहा है कि मीडिया में बने रहने के लिए गिरिराज सिंह ऐसे बयान देते रहते हैं. मैं उनके बयान को तवज्जो नहीं देता हूं. वह इसी तरह आग लगाने वाले, देश को तोड़ने और बांटने वाले और नफरत फैलाने वाले बयान देते रहते हैं. वहीं, आरजेडी के विधायक राहुल तिवारी ने कहा कि गिरिराज सिंह कट्टर हिंदुत्व की बात बताते हैं. देश को गिरिराज सिंह जैसे नेताओं खतरा है, मुसलमानों से नहीं. उन्होंने कहा कि इनके जैसे नेताओं के कारण देश की अस्मिता बर्बाद हो रही है. ऐसे नेताओं को तरजीह नहीं देनी चाहिए.

बीजेपी की सहयोगी पार्टी जेडीयू गिरिराज सिंह के बयान को तबज्जो नहीं दे रही है. पार्टी के प्रवक्ता निखिल मंडल ने कहा कि ऐसे बयान वो देते रहते हैं. यह उनकी सोच है. अपने हिसाब से बाते कहते रहते हैं. जब किसी उम्मीदवार ने जीत हासिल की है तो जनता ने उसे पसंद किया है. जनता के द्वारा चुना हुआ उम्मीदवार है. जब जनता ने जिताया है तो जनता के निर्णय का सम्मान करना चाहिए.

वहीं, बीजेपी प्रवक्ता अजित चौधरी ने गिरिराज सिंह के ट्वीट को सही बताया है. उन्होंने कहा कि ओवैसी की विचारधारा कट्टरपंथी है. उन्होंने 35-A और तीन तलाक बिल का विरोध किया है. गिरिराज सिंह ने बिहार के लोगों को बताया है कि विचार करनी चाहिए. ओवैसी के पार्टी ने दस्तक दिया है. वहां जो कट्टरपंथी और घुसपैठिए रह रहे हैं, उनके द्वारा पूरा समर्थन दिया गया है. बीजेपी एनआरसी की मांग उठाती है. उससे बचने के लिये जिताया गया है. ओवैसी की पार्टी बिहार के लोगों के लिए खतरे की घंटी है.

ज्ञात हो कि गिरिराज सिंह ने अपने ट्वीट में लिखा था, 'बिहार के उपचुनाव में सबसे ख़तरनाक परिणाम किशनगंज से उभर के आया है. ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम जिन्ना की सोच वाली है. ये वंदे मातरम् से नफरत करते हैं. इनसे बिहार की सामाजिक समरसता को खतरा हैं. बिहारवासियों को अपने भविष्य के बारे में सोचना चाहिए.'