पटना: सुशील मोदी बोले- चाइल्ड बजट में प्रावधान से अधिक हो रहा खर्च, 16 विभागों को किया गया शामिल

बीजेपी नेता ने कहा कि बिहार में 2012-13 से चाइल्ड बजट पेश किया जा रहा है और सरकार इसमें प्रावधान से ज्यादा खर्च कर रही है. उन्होंने कहा कि बच्चों के सामाजिक स्तर पर विकास के लिए चाइल्ड बजट बहुत महत्वपूर्ण है.

पटना: सुशील मोदी बोले- चाइल्ड बजट में प्रावधान से अधिक हो रहा खर्च, 16 विभागों को किया गया शामिल
बिहार के डिप्टी सीएम हैं सुशील कुमार मोदी. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) की अध्यक्षता में गुरुवार को चाइल्ड बजट को लेकर बैठक का आयोजन किया गया. इस मौके पर सुशील मोदी ने कहा कि देश में मात्र तीन राज्यों में चाइल्ड बजट (Child Budget) का प्रावधान है. उन्होंने कहा कि सिर्फ केरल, असम और बिहार में चाइल्ड बजट बनाया जाता है.

बीजेपी नेता ने कहा कि बिहार में 2012-13 से चाइल्ड बजट पेश किया जा रहा है और सरकार इसमें प्रावधान से ज्यादा खर्च कर रही है. उन्होंने कहा कि बच्चों के सामाजिक स्तर पर विकास के लिए चाइल्ड बजट बहुत महत्वपूर्ण है.

सुशील मोदी ने कहा कि पहले आठ विभाग को चाइल्ड बजट में शामिल किया गया था, लेकिन अब इसमें 16 विभाग शामिल हैं. उन्होंने कहा कि चाइल्ड बजट को लेकर राज्य सरकार ने कई आयोजन कर अनुभव हासिल किए हैं. साथ ही चाइल्ड बजट को लेकर इस बजट सेंशन से पहले काम किया जाएगा.

डिप्टी सीएम ने कहा कि यह कोई स्वतंत्र बजट नहीं है, बल्कि बिहार के बजट का ही हिस्सा है. मोदी ने कहा कि बच्चों के लिए जिन विभागों में खर्च हो रहे हैं उसका लेखा जोखा है. साथ ही इसके प्रतिफल को लेकर भी हम लोग काम काम कर रहे हैं. इससे चाइल्ड बजट की महत्ता समझी जा सकती है.

बैठक में वित्त विभाग के प्रधान सचिव एस सिद्धार्थ समेत कई वरिष्ठ पदाधिकारी मौजूद रहे. इसके अलावा आद्री और यूनिसेफ (UNICEF)के प्रतिनिधियों ने भी बैठक में भाग लिया. इस मौके पर प्रधान सचिव एस सिद्धार्थ ने कहा कि चाइल्ड बजट से इसका क्या प्रतिफल निकला इस पर आगे चर्चा की जाएगी.

वहीं, डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने मानक सञ्चालन प्रशिक्षण दस्तावेज का भी विमोचन. बता दें कि पुराना सचिवालय में चाइल्ड बजट की बैठक में विमोचन कार्यक्रम किया गया.