close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड: विधानसभा चुनाव में कुछ ही दिन हैं शेष, महागठबंधन में नहीं हुआ है सीटों का तालमेल

विधानसभा चुनाव की तारीख तो अभी तय नहीं हुई है, लेकिन सभी दलों की चुनावी गतिविधियां तो बढ़ ही गई हैं. लंबे समय से झारखंड में महागठबंधन का राग अलापने वाला विपक्ष अब तक तालमेल के पेंच में ही उलझा है.

झारखंड: विधानसभा चुनाव में कुछ ही दिन हैं शेष, महागठबंधन में नहीं हुआ है सीटों का तालमेल
झारखंड में महागठबंधन में नहीं हुआ है तालमेल.

रांची: झारखंड में विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Elections) करीब है, लेकिन महागठबंधन में सीटों के तालमेल से लेकर चेहरे पर साफ तस्वीर अभी भी दूर-दूर तक नजर नहीं आ रही है. चेहरे के सवाल पर जेएमएम (JMM) अपना स्टैंड क्लियर बताकर हेमंत सोरेन को महागठबंधन (Grand Alliance) का नेता बता रहे हैं. साथ ही जेएमएम का यह भी कह कहना है कि हेमंत के नाम पर ही वोट मिल सकता है. वहीं, झारखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव बस इतना भर बताते हैं अभी मेरा प्रयास चल रहा है. सबसे मिल रहे हैं. अभी बताने का समय नहीं आया है. तालमेल होगा, लेकिन अभी कुछ बताएंगे नहीं.

वहीं, बीजेपी (BJP) के हटिया से विधायक नवीन जायसवाल विपक्ष के तालमेल की तैयारी पर कहते हैं कि लोकतंत्र में सभी अपना प्रयास करते हैं. बीजेपी के शासन को जनता ने देखा है. काम के बल पर जिस तरह लोकसभा चुनाव में जनता ने भरपूर साथ दिया. विधानसभा चुनाव में भी जनता का सहयोग मिलेगा.

विधानसभा चुनाव की तारीख तो अभी तय नहीं हुई है, लेकिन सभी दलों की चुनावी गतिविधियां तो बढ़ ही गई हैं. लंबे समय से झारखंड में महागठबंधन का राग अलापने वाला विपक्ष अब तक तालमेल के पेंच में ही उलझा है. कितने दलों का बनेगा महागठबंधन, कौन करेगा नेतृत्व, अभी तक इसपर भी पर्दा ही है. जेएमएम हेमंत को महागठबंधन का चेहरा बताकर साथियों को नसीहत भी दे रहा है कि झारखंड में विपक्ष को उनके ही नाम पर वोट मिल सकता है.

विधानसभा चुनाव एनडीए को घेरने के लिए महागठबंधन की बात तो कांग्रेस भी कर रही है, लेकिन प्रदेश अध्यक्ष भी सीटों के तालमेल के साथ साथ चेहरे के सवाल पर बस गोलमोल जवाब देते हैं. तालमेल का दावा तो करते हैं, लेकिन कितने दल, कितनी सीट और चेहरा कौन, इसे बताने का समय अभी नहीं आया है.

विधानसभा चुनाव की तैयारी से पहले तालमेल वाला विपक्षी पेंच अब भी उलझा ही है. इन सब के बीच अपने संगठन के कार्यक्रमों के बदौलत विपक्ष को मात देने में जुटी बीजेपी के नेता बस इतना भर कहते हैं कि लोकतंत्र में सभी अपना प्रयास करते हैं. जनता का सहयोग बीजेपी को ही मिलेगा.