Ganga में डूब रहा था पोता, बचाने के लिए कूद पड़े दादा, फिर हुआ कुछ ऐसा कि मच गया कोहराम
X

Ganga में डूब रहा था पोता, बचाने के लिए कूद पड़े दादा, फिर हुआ कुछ ऐसा कि मच गया कोहराम

मगर इस दरम्यान दादा बुधन राय नदी में डूबने लगे. नदी में दादा बुधन राय को डूबते देख ग्रामीण उन्हें बचाने के लिए नदी में कूद पड़े मगर तब तक देर हो चुकी थी. पोते के प्रेम में डूबे दादाजी नदी में डूब चुके थे. 

Ganga में डूब रहा था पोता, बचाने के लिए कूद पड़े दादा, फिर हुआ कुछ ऐसा कि मच गया कोहराम

इस्तेयाक/दानापुर: दादा का पोते-पोतियों के प्रति प्यार कितना अनमोल होता है, यह किसी से छुपा नहीं है. दानापुर में अपने पोते को तैरना न आते हुए देख दादाजी उसे बचाने के लिए बिना सोचे-समझे कूद पड़े. हालांकि, इसमें पोता तो बच गया, लेकिन दादा की मौत हो गई है.

ये घटना इस बात की ताकीद करती है कि दादा के लिए पोता कितना प्यारा होता है. घटना दानापुर के शाहपुर थाना क्षेत्र की है जहां शाहपुर के गंगा नदी घाट पर नहाने के लिए गए 76 वर्षीय दादा बुधन राय और 14 साल का पोता धीरज कुमार गए थे. नहाने के दौरान पोता नदी में डूबने लगा जिसको देखकर तैरने ना आते हुए भी गहरी नदी में दादा कूद पड़े और किसी तरह अपने पोते को किनारे तक धकेल पाए. 

मगर इस दरम्यान दादा बुधन राय नदी में डूबने लगे. नदी में दादा बुधन राय को डूबते देख ग्रामीण उन्हें बचाने के लिए नदी में कूद पड़े मगर तब तक देर हो चुकी थी. पोते के प्रेम में डूबे दादाजी नदी में डूब चुके थे. 

काफी मशक्कत के बाद बुधन राय के शव को खोज कर निकाला गया. घटना की खबर लगते ही परिजनों में कोहराम मच गया. पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम के लिए दानापुर अनुमंडलीय अस्पताल भेज दिया. 

इसके बाद परिजनों को दानापुर सीओ ने भरोसा दिलाया कि जल्द ही उन्हें मुआवजा दिया जाएगा.

Trending news