गुरुग्राम का एनजीओ बिहार बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास में कर रहा मदद
X

गुरुग्राम का एनजीओ बिहार बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास में कर रहा मदद

एम3एम फाउंडेशन की ट्रस्टी पायल कानोडिया ने कहा, "पूर्वी चंपारण जिले का ग्रामीण समुदाय बाढ़ के कारण बुरी तरह प्रभावित हुआ है. एक जिम्मेदार संगठन के रूप में हम इस मुश्किल समय में उनके साथ हैं.

गुरुग्राम का एनजीओ बिहार बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास में कर रहा मदद

पटना: गुरुग्राम का एनजीओ एम3एम फाउंडेशन बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में बाढ़ पीड़ितों के पुनर्वास में मदद कर रहा है. एक अन्य गैर सरकारी संगठन 'राइज ऑलवेज वेलफेयर सोसाइटी' के सहयोग से एनजीओ ने बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में कम से कम 30 परिवारों के लिए एक गैस स्टोव देने के साथ-साथ घरों के पुनर्निर्माण की सुविधा दी है. 

इसके तहत पूर्वी चंपारण जिले के भजा टोला, पूर्वी सरेया, पश्चिम सरेया, मटियारवा, बंकट और मझरिया में 15 घर बन चुके हैं.

एम3एम फाउंडेशन की ट्रस्टी पायल कानोडिया ने कहा, "पूर्वी चंपारण जिले का ग्रामीण समुदाय बाढ़ के कारण बुरी तरह प्रभावित हुआ है. एक जिम्मेदार संगठन के रूप में हम इस मुश्किल समय में उनके साथ हैं. वित्तीय और मनोवैज्ञानिक तरीके से उनका समर्थन करने के लिए हम प्रतिबद्ध हैं."

बता दें कि पूर्वी चंपारण के दरभंगा, मुजफ्फरपुर और सारण जिले प्रमुख नदियों में बढ़ते जलस्तर के कारण बाढ़ के प्रभाव में हैं. बाढ़ ने 16 जिलों के 81.59 लाख लोगों को प्रभावित किया है. इसके अलावा 7.5 लाख हेक्टेयर में खड़ी फसलों को बेजा नुकसान पहुंचाया है.

राइज ऑलवेज वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष सर्वेश तिवारी ने कहा, "बिहार में बाढ़ ने विशेष रूप से समाज के कमजोर वर्ग को बुरी तरह प्रभावित किया है. यह हमारी नैतिक जिम्मेदारी है कि हम उनकी मदद करें." इन घरों का निर्माण बांस और सीमेंट की चादरों से किया गया है.
Input:-IANS

Trending news