बिहार के इन 16 जिलों में भारी बारिश और वज्रपात की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए चेतावनी दी है कि संख्यात्मक मौसम मॉडल के आंकलन के अनुसार राज्य के कई भागों में अगले 72 घंटों के दौरान भारी बारिश और वज्रपात की संभावना है. 

बिहार के इन 16 जिलों में भारी बारिश और वज्रपात की चेतावनी, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
मौसम विभाग ने बिहार के 16 जिलों में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार में पिछले कुछ दिनों से लगातार बारिश जारी है. वहीं, गुरुवार को मौसम विभाग ने बिहार के 16 जिलों में भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी किया है. मौसम विभाग ने अलर्ट जारी करते हुए चेतावनी दी है कि संख्यात्मक मौसम मॉडल के आंकलन के अनुसार राज्य के कई भागों में अगले 72 घंटों के दौरान भारी बारिश और वज्रपात की संभावना है. 

मौसम विभाग ने कहा है कि भारी बारिश के कारण जान-माल की हानि, निचले स्थानों में जलजमाव, यातायात बाधित, बिजली की समस्या और नदी के जलस्तर में बढ़ोतरी की भी संभावना है.

मौसम विभाग के अनुसार बिहार के पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, गोपालगंज, सिवान, शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, सारण, मधुबनी, सुपौल, अररिया, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया और कटिहार में तबाही की आशंका जताई है. 

मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में दक्षिण बिहार से गुजर रही टर्फ ऑफ लाइन उत्तर बिहार की ओर शिफ्ट होगी. इसके साथ ही अरब सागर और बंगाल की खाड़ी क्षेत्र से आ रही नमी युक्त हवाएं भी उत्तर बिहार में मिलेंगी. इस वजह से भारी बारिश स्थिति बनी हुई है.

आपको बता दें कि आकाशीय बिजली की वजह से बिहार में पहले ही कोहराम मच गया है. बिहार में अब तक 87 लोगों की मौत हो चुकी है. बिहार के गोपालगंज, पूर्वी चंपारण, सीवान , मधुबनी, पश्चिमी चंपारण, खगड़िया में वज्रपात गिरने से 87 लोगों की मौत हो गई है. वहीं, आपदा विभाग ने 83 लोगों की मौत की पुष्टि की है. वहीं, कई लोग घायल हो गए हैं.

आपदा प्रबंधन विभाग ने इसकी पुष्टी की है. वहीं, मृतक के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की सहायक अनुदान राशि दी जाएगी. आपदा प्रबंधन मंत्री लक्ष्मेश्वर राय ने इसकी जानकारी दी है.