close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार: मूसलाधार बारिश से मधेपुरा में बाढ़ की स्थिति, DM ने जारी किया हाई अलर्ट

कोसी नदी समेत अन्य नदियों में लगातार बढ़ रहे जलस्तर को लेकर लोगों में है दहशत का माहौल है. डीएम नवदीप शुक्ला ने हाई एलर्ट जारी किया है.

बिहार: मूसलाधार बारिश से मधेपुरा में बाढ़ की स्थिति, DM ने जारी किया हाई अलर्ट
मधेपुरा में भारी बारिश से बाढ़ की स्थिति. (प्रतिकात्मक स्थिति)

शंकर कुमार, मधेपुरा : बिहार के मधेपुरा में लगातार तीन दिनों से हो रही झमाझम बारिश (Bihar Rain) के कारण जिला मुख्यालय समेत जिले के कई प्रखंडों में बाढ़ (Flood) का खतरा मंडराने लगा है. स्थानीय लोगों के घरों में बारिश का पानी घुस गया है. कोसी नदी समेत अन्य नदियों में लगातार बढ़ रहे जलस्तर को लेकर लोगों में है दहशत का माहौल है. डीएम नवदीप शुक्ला ने हाई एलर्ट जारी किया है. सभी सरकारी और निजी स्कूलों को तत्काल अगले आदेश तक बंद रखने का सख्त निर्देश गया है.

जिले के आलमनगर और चौसा प्रखंड के दो दर्जन से अधिक गांव है पूरी तरह प्रभावित है. पूरे जिला में एक लाख से अधिक लोग हो बेघर हो चुके हैं. ऊंचे स्थान की तलाश में जुटे स्थानीय लोग लोग जुटे हुए हैं. वहीं, चौसा-फुलौत मुख्य सड़क पर दो फीट से अधिक पानी बह रहा है.

लाइव टीवी देखें-:

प्रखंड मुख्यालय से गांव का सड़क सम्पर्क भंग हो चुका है. डीएम नवदीप शुक्ला ने कहा है कि निचले इलाके में उफनाई कोसी नदी की पानी फैल चूका है. तत्काल इस दिशा में कार्रवाई की जा रही है. सभी प्रभावित प्रखंडों के सीओ और बीडीओ को निर्देश दिया गया है. वे लगातार निगरानी में हैं.

मधेपुरा जिला मुख्यालय समेत उदाकिशुनगंज अनुमंडल के चौसा और आलमनगर प्रखंड मुख्यालय के इलाके में लगातार हो रही बारिश के कारण कोसी के जल स्तर में वृद्धि को लेकर एकबार फिर मधेपुरा में बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है. लोग काफी दहशत में हैं. बढ़ते जलस्तर से कई घरों में कोसी नदी की पानी घुस गया है.

पीड़ितों के मुताबिक, सरकारी स्तर पर अब तक कोई पुख्ता इंतजाम नहीं किया गया है. यहां तक कि इन क्षेत्रों में नाव की कोई व्यवस्था नहीं है. एक नाव के सहारे जान-जोखिम में डालकर सोग गांव से पलायन के लिए मजबूर हैं.