हेमन्त सोरेन ने दिखाया बड़ा दिल, रघुवर दास के खिलाफ दर्ज केस लेंगे वापस

चुनाव प्रचार के दौरान रघुवर दास ने हेमंत सोरेन के खिलाफ सार्वजनिक स्थल पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. जिसके बाद मिहिजाम थाने में हेमन्त सोरेन ने रघुवर दास के खिलाफ केस दर्ज कराया था.

हेमन्त सोरेन ने दिखाया बड़ा दिल, रघुवर दास के खिलाफ दर्ज केस लेंगे वापस
हेमन्त सोरेन वापस लेेंगे रघुवर के खिलाफ केस.(फाइल फोटो)

जामताड़ा: कहते हैं कि मौहब्बत और जंग में सब जायज़ होता है. राजनीति में भी विरोधियों से मुकाबला करने का नेता कोई मौका नहीं चूकते हैं. लेकिन झारखंड की बागडोर संभालने जा रहे झारखंड मुक्ति मोर्चा (JMM) के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन एक नई मिसाल पेश करते दिखाई दे रहे हैं. हाल में खत्म हुई चुनावी जंग में रघुवर दास (Raghubar Das) और हेमन्त सोरेन ने एक-दूसरे पर जमरकर बयानों के बाण चलाए थे. 

18 दिसंबर को झारखंड विधानसभा (Jharkhand assembly election) के पांचवें चरण में चुनाव प्रचार के दौरान रघुवर दास ने हेमंत सोरेन (Hemant Soren) के खिलाफ सार्वजनिक स्थल पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. जिसके बाद मिहिजाम थाने में हेमन्त सोरेन ने रघुवर दास के खिलाफ अनुसूचित जाति जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम का केस दर्ज किया गया था. लेकिन अब हेमंत सोरेन ने मामला वापस लेने का फैसला किया है.रिम्स में लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) से मुलाकात करने पहुंचे हेमन्त सोरेन ने साफ किया कि वो रघुवर दास के खिलाफ दायर किए गए मामले को वापस ले रहे हैं.

इससे पहले जामातड़ा के एसपी अंशुमन कुमार ने बताया था कि "कुछ दिन पहले 18 तारीख का ये मामला है जिसमें हेमन्त सोरेन के द्वारा दुमका में कंप्लेन्ट दर्ज की गई थी, जो कि दुमका एसपी के द्वारा हमारे यहां भेज दी गई क्योंकि ये मिहिजाम से संबंधित मामला था उसी पर एक कांड यहां पर दर्ज किया गया है"

हेमन्त सोरेन ने चुनाव के दौरान शिकायत दर्ज कराते वक्त कहा था कि वो इससे आहत हैं और उनकी प्रतिष्ठा को ठेस पहुंची है. लेकिन अब लगता है कि जीत की मिठास मिलने के बाद हेमन्त सोरेन पुरानी  पुरानी खटास को भूलकर आगे बढ़ना चाहते हैं