close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

झारखंड: पाकुड़ में पेश की गई एकता की मिसाल, हिन्दू-मुस्लिम ने साथ मिलकर की दुर्गा की अराधना

पूजा के लिए राशि, साज-सज्जा, साफ-सफाई से लेकर सारा काम हिन्दू-मुस्लिम मिलकर कर रहे हैं, जिसे देखकर कोई नहीं कह सकता कि दो धर्म के लोग एकसाथ त्यौहार मना रहे हैं.

झारखंड: पाकुड़ में पेश की गई एकता की मिसाल, हिन्दू-मुस्लिम ने साथ मिलकर की दुर्गा की अराधना
पाकुड़ में पेश की गई हिन्दू-मुस्लिम एकता की मिसाल.

सोहन, पाकुड़: नवरात्रि ( Navratri ) के अवसर पर इस बार देशभर में अलग-अलग सामाजिक संदेश देखने को मिल रहे हैं. झारखंड के पाकुड़ ( Pakur ) में भी एक दुर्गा पूजा ( Durga Puja ) पंडाल में गंगा-जमुनी तहज़ीब की मिसाल देखने को मिली. यहां के नामूपाड़ा मोहल्ले के हिन्दू और मुस्लिम समुदाय के लोग एकसाथ मिलकर त्योहार मना रहे हैं. करीब तीन सौ परिवारों के इस मोहल्ले में 100 हिन्दू और बाकी मुसलमान समुदाय के लोग मिलजुलकर एक-दूसरे का त्यौहार मनाते आ रहे हैं. खास बात यह है कि दोनों धर्मों के लोग दुर्गा पूजा का ये आयोजन लगातार तीसरी बार कर रहे हैं.

40 युवकों की कमेटी ने पूजा पंडाल से लेकर मेले तक की सारी व्यवस्था अपने हाथों में ली हुई है. पूजा के लिए राशि, साज-सज्जा, साफ-सफाई से लेकर सारा काम हिन्दू-मुस्लिम मिलकर कर रहे हैं, जिसे देखकर कोई नहीं कह सकता कि दो धर्म के लोग एकसाथ त्यौहार मना रहे हैं.

सद्भावना के साथ की जा रही सेवा
समिति के संस्थापक आनंद कुमार का कहना है, 'मोहल्ले में विभिन्न जाति-धर्म के लोग रहते हैं. इसलिए हमलोगों ने सद्भावना केंद्र पूजा समिति नाम दिया है. यहां सभी मिलकर पूजा-अर्चना करते हैं.' इसके अलावा समिति की तरफ से चंदा इकट्ठा कर जरूरतमंदों को आयुष्मान योजना के तहत गोल्डन कार्ड भी बनवाए जा रहे हैं. पूजा समिति ने कैंप लगाकर 450 लोगों का आयुष्मान योजना के तहत गोल्डन कार्ड बनवाया है. आनंद कुमार कहते हैं कि सद्भावना केंद्र पूजा समिति संदेश देना चाह रही है कि आगे हम सभी मिलकर कुछ और अच्छा काम करे. 

वहीं, सद्भावना केंद्र के सदस्य मोहम्मद शब्बीर अंसारी ने बताया कि सभी समुदाय के लोग यहां मिल-जुलकर दुर्गा पूजा करते हैं. इस मोहल्ले में कभी पूजा नहीं होती थी, इसलिए सारे लोग उत्साह के साथ दुर्गा पूजा मनाते हैं. बच्चों को प्रोत्साहित करने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया है.

-- Ravinder Singh, News Desk