close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गोपालगंज: टल गया बड़ा हादसा, सदर अस्पताल की जर्जर हो चुकी छत भरभरा कर गिरी

 गोपालगंज के सदर अस्पताल स्थित टीबी वार्ड की छत गिरने से स्वास्थ्य कर्मियों में अफरा- तफरी मच गई. हालांकि, हादसे में किसी को कोई चोट नहीं आई, साथ ही स्वास्थ्यकर्मी भी बाल- बाल बच गए.

गोपालगंज: टल गया बड़ा हादसा, सदर अस्पताल की जर्जर हो चुकी छत भरभरा कर गिरी
अस्पताल के टीबी वार्ड की छत भरभरा कर गिरी

गोपालगंज: बिहार के गोपालगंज में एक बड़ा हादसा टल गया. यहां के सदर अस्पताल (Hospital) स्थित टीबी वार्ड (TB ward) के छत का प्लास्टर भराभरा कर गिर गया. इस घटना के बाद स्वास्थ्य कर्मियों में अफरा- तफरी मच गई. हालांकि, प्लास्टर गिरने से किसी को कोई चोट नहीं आई, साथ ही स्वास्थ्यकर्मी भी बाल- बाल बच गए.

इस भवन की जर्जर हालत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि इसकी दीवारें काफी कमजोर हो चुकी हैं और ये कभी भी गिर सकती हैं. हालांकि, भवन की जर्जर हालत देखने के बावजूद अस्पताल प्रशासन (Hospital Administration) इस बात को लेकर गंभीर नजर नहीं आ रहा है. यही कारण है कि हर दिन छत से प्लास्टर व रोड़ी गिरती रहती है. बावजूद इसके स्वाथ्य विभाग लापरवाह बना हुआ है.

सदर अस्पताल में स्थित इस भवन में टीबी मरीजो के इलाज के साथ कार्यालय भी चलता है. इस भवन में दर्जनों की संख्या में स्वास्थ्य कर्मी काम करते है. मरीजो और कर्मियों में हमेशा भय बना रहता है कि कभी भवन का हिस्सा गिर गया तो बड़ा हादसा हो सकता है.

अस्पताल के कर्मचारी अजय कुमार ने बाताया कि यह घटना शुक्रवार दोपहर 3 बजे के बाद की है। उन्होंने कहा कि अगर यही हादसा तीन बजे के पहले हआ होता तो जानमाल का ज्यादा नुकसान हो सकता था.

इस मामले में सिविल सर्जन नंदकिशोर प्रसाद ने कहा कि नया भवन बन गया है, लेकिन पुराने भवन का 50 प्रतिशत हिस्सा काफी जर्जर स्थिति में है. उन्होंने कहा कि सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड की स्थिति बहुत खराब है. साथ ही नंदकिशोर ने कहा कि भवन का ग्राउंड लेबल इतना नीचे है कि चाहकर भी साफ- सफाई नहीं किया जा सकता है, जिसके वजह से हमेशा गंदगी लगी रहती है.

वार्ड भवन की छत गिरने से अब सवाल उठता है कि अगर इस हादसे में किसी मरीज या स्वास्थ्य कर्मी की मौत हुई होती, तो इसका जिम्मेदार कौन होगा?