जहानाबाद में आवास सहायक ने वार्ड सदस्य को दी धमकी, कहा- तुम्हारा हाथ पैर तोड़ देंगे

इसके अलावा आवास सहायक ने वार्ड सदस्य को हाथ-पैर तक तोड़ने की भी धमकी दी है. इस धमकी का ऑडियो और इससे संबंधित शिकायत का मामला बीडीओ से लेकर डीएम, एसपी तक पहुंच गया है. बीडीओ व डीएम समेत अन्य पदाधिकारी को दिए गए आवेदन में वार्ड सदस्य ने उल्लेख किया कि उनकी पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए लाभुकों की सूची तैयार की गई थी.

जहानाबाद में आवास सहायक ने वार्ड सदस्य को दी धमकी, कहा- तुम्हारा हाथ पैर तोड़ देंगे
जहानाबाद में आवास सहायक ने वार्ड सदस्य को धमकाया.

गया: मामला जहानाबाद के मखदुमपुर प्रखंड का है, जहां पूर्वी सरेण पंचायत में बहाल आवास सहायक विक्रम कुमार वर्मा ने तो हद ही कर दी. आवास सहायक ने मोबाइल पर अपनी ही पंचायत के वार्ड नंबर 10 के वार्ड-सदस्य प्रेमचंद प्रसाद को धमकी दी कि वे अपनी बीवी के साथ भी सोए रहेंगे तो वह उसे वहां से भी उठवा लेंगे.

इसके अलावा आवास सहायक ने वार्ड सदस्य को हाथ-पैर तक तोड़ने की भी धमकी दी है. इस धमकी का ऑडियो और इससे संबंधित शिकायत का मामला बीडीओ से लेकर डीएम, एसपी तक पहुंच गया है. बीडीओ व डीएम समेत अन्य पदाधिकारी को दिए गए आवेदन में वार्ड सदस्य ने उल्लेख किया कि उनकी पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए लाभुकों की सूची तैयार की गई थी. उक्त सूची में उनके ही वार्ड के संजू देवी को प्रधानमंत्री आवास मिलना था.

सूची के क्रमांक 279 में उनका नाम दर्ज है, लेकिन आवास सहायक विक्रम कुमार वर्मा ने रुपये लेकर गलत ढंग से लाभुक संजू देवी के नीचे के क्रमांक के लाभुकों को राशि निर्गत करा दी. आवास से वंचित लाभुक संजू देवी का बेटा सोनू कुमार ने उसे अपने घर बुलाया और अपने मोबाइल से आवास सहायक से बात कराई. बातचीत शुरु करते ही वह अमर्यादित ढंग से उसे हाथ-पैर तोड़कर मारने की धमकी देनी शुरू कर दी. वह इतने पर ही नहीं रूका. उसने कहा कि तुम पहचानते नहीं हो. तुम अपनी बीवी के साथ भी सोए रहोगे तो वह उसे वहां से भी उठवा लेगा. 

उसने यह भी धमकी दी कि यदि उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया गया तो वह भी काउंटर एफआईआर कर मुकदमे में फंसा देगा. इस आशय का ऑडियो भी खूब तेजी से वायरल हो रहा है. आवास सहायक की धमकी से परेशान व डरे वार्ड सदस्य ने एसपी को आवेदन देकर इस पूरे मामले की जांच कर आवास सहायक के खिलाफ कार्रवाई करने की गुहार लगाई है. इधर एसपी मनीष ने बताया कि मामला सामने आने के बाद पूरे मामले की जांच शुरु कर दी गई है. यदि इस तरह की बात जांच में सच पाई गई तो आवास सहायक के विरुद्ध कार्रवाई की जायेगी.