close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

सऊदी अरब से फोन पर पति ने दे दिया 'तीन तलाक', महिला जुड़वा बेटियों के साथ पहुंची थाने

एक मुस्लिम महिला को उसके शौहर ने विदेश से फोन करके उसे तीन तलाक दे दिया तो अपने मासूम बच्चों के साथ वह महिला थाना पहुंच गई.  

सऊदी अरब से फोन पर पति ने दे दिया 'तीन तलाक', महिला जुड़वा बेटियों के साथ पहुंची थाने
महिला ने तीन तलाक के बाद थाने में दर्ज कराई शिकायत.

मोहन प्रकाश/सुपौलः संसद में तीन तलाक बिल पास होने के बाद अब मुस्लिम महिलाएं न्याय की उम्मीद लिए थाना में मुकदमा दर्ज करवाने लगी है. इसी कड़ी में बिहार के सुपौल जिले के एक मुस्लिम महिला को उसके शौहर ने विदेश से फोन करके उसे तीन तलाक दे दिया तो अपने मासूम बच्चों के साथ वह महिला थाना पहुंच गई.

महिला ने आरोप लगाया है की उसके पति ने उसे छोड़ दिया और लड़की पैदा करने की सजा दी है. इस बाबत महिला थाने में मुकदमा दर्ज कर लिया है और पुलिस अधिकारी जल्द उसे न्याय दिलाने का भरोसा देने का दम भर रहे हैं.

दरअसल, तीन साल पहले सदर थाना इलाके के महेशपुर गांव की रहने वाली पीड़ित महिला फर्जाना की शादी बसबिट्टी के इकरामूल से हुई थी. सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था की पिछले साल फर्जाना ने एक बच्ची को जन्म दिया. बच्ची की जन्म के बाद से ही ससुराल वाले खफा रहने लगे थे. हालंकि, उस बच्ची की किसी कारण ग्यारह माह के बाद मौत हो गई. 

इस बीच 20 जुलाई को फिर फर्जाना ने जुड़वां दो बच्ची को जन्म दिया. बच्चियों के जन्म से फर्जना के ससुराल वाले काफी हताश थे. अस्पताल से छुट्टी के बाद जैसे ही फर्जाना ससुराल आई तो उसे खरी खोटी सुनाने लगे. हद तो तब हो गई जब सऊदी अरब में रह रहे पति इकरामूल ने फोन पर तीन तलाक दे दिया.

इकरामूल ने अपने परिजन को फोन कर कहा की वह फोन को स्पीकर पर करे और उसकी पत्नी फर्जाना को भी वहां बुलाए. जिसके बाद परिवारवालों के सामने फोन पर तीन तलाक दे दिया गया. तीन तलाक के बाद पीड़िता अपने दोनों नवजात बच्ची को लेकर अपने मायकेवालों के साथ महिला थाने पहुंच गई. पीड़िता के पिता ने यह भी आरोप लगाया है कि थाना जाने पर फर्जाना के ससुरालवालों ने जान से मार डालने की भी धमकी दी है.