मुंगेर आर्म्स का उत्तर बिहार से निकला कनेक्शन, हथियारों की चुनाव में करनी थी डिलीवरी

सरकारी नौकरी से रिटायर एक शख्स के जमीन में अवैध फैक्ट्री चल रही थी और लाखों रुपए की लागत से सभी आधुनिक मशीनों को लगा कर आर्म्स का निर्माण किया जाता था.

मुंगेर आर्म्स का उत्तर बिहार से निकला कनेक्शन, हथियारों की चुनाव में करनी थी डिलीवरी
मुंगेर आर्म्स का उत्तर बिहार से निकला कनेक्शन, हथियारों की चुनाव में करनी थी डिलीवरी.

मुजफ्फरपुर: मुंगेर आर्म्स तस्कर का उत्तर बिहार से कनेक्शन का मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक, विधानसभा चुनाव में आर्म्स की डिलीवरी करनी थी. दरअसल, मुजफ्फरपुर पुलिस ने अर्धनिर्मित हथियारों का जखीरा पकड़ा है. एसएसपी जयंत कान्त को गुप्त सूचना मिली थी कि, मुंगेर का अवैध आर्म्स निर्माता मुजफ्फरपुर जिला क्षेत्र के करीबी इलाके में आर्म्स फैक्ट्री चला रहे हैं.

इसी गुप्त सूचना पर मुजफ्फरपुर जिला से सटे वैशाली जिला के चपेठ गांव में एसएसपी ने दल बल के साथ छापेमारी किया. छापेमारी की सूचना पर वैशाली पुलिस भी पहुंची. इस दौरान, फैक्ट्री में 1200 के करीब अर्ध निर्मित पिस्टल को बरामद किया.

बताया जा रहा है कि, सरकारी नौकरी से रिटायर एक शख्स के जमीन में अवैध फैक्ट्री चल रही थी और लाखों रुपए की लागत से सभी आधुनिक मशीनों को लगा कर आर्म्स का निर्माण किया जाता था. जानकारी के अनुसार, मुंगेर के कासिम बाजार का मोहमद इस्लाम करता अवैध आर्म्स का निर्माण करता था.

इस्लाम बंगाल तक अपने आर्म्स सप्लाई को अंजाम देता था और कई वर्षों से वह आर्म्स का निर्माण करता था. इस्लाम के साथ सात लोग गिरफ्तार किए गए हैं, जिसमें प्रमुख रूप से लड्डन, परवेज ,अफरोज और जमीन मालिक शामिल हैं. बता दें कि, मुंगेर में आर्म्स मिर्माण के रोक पर पुलिस की चौकसी और उत्तर बिहार में आर्म्स की ज्यादा अपराधिओं द्वारा बढ़ते मांग को देखते हुए, यहां आर्म्स फैक्ट्री शुरू कर दिया गया था.