IMA ने अश्विनी चौबे को लिखा पत्र, की पटना एम्स को डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल बनाने की मांग

 केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे को पत्र लिखा है और पटना एम्स को डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल बनाने की मांग की. साथ ही आईएमए ने पत्र में 50 फीसदी सीट डॉक्टरों और हेल्थ वर्कर के लिए रिजर्व किए जाने की भी मांग की है. 

 IMA ने अश्विनी चौबे को लिखा पत्र, की पटना एम्स को डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल बनाने की मांग
आईएमए ने केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे को पत्र लिखा है.(फाइल फोटो)

पटना: आईएमए (द इंडियन मेडिकल एसोसिएशन) ने केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे को पत्र लिखा है और पटना एम्स को डेडिकेटेड कोविड हॉस्पिटल बनाने की मांग की. साथ ही आईएमए ने पत्र में 50 फीसदी सीट डॉक्टरों और हेल्थ वर्कर के लिए रिजर्व किए जाने की भी मांग की है. 

साथ ही, आईएमए ने दावा किया है कि बिहार के 200 से अधिक डॉक्टर और हेल्थ वर्कर कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. ऐसी स्थिति में आम लोगों को बचाने के लिए डॉक्टरों और चिकित्सकों को सुरक्षित रहना सबसे अधिक जरूरी है. 

आपको बता दें आईएमए ने बिहार के सरकारी अस्पतालों में खराब स्वास्थ्य व्यवस्था की भी बात को स्वीकार किया है. आईएमए ने सरकार से मांग की है कोविड लक्षण पाए जाने वाली सभी चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों की तुरंत कोरोना जांच की जाए. 

आपको बता दें कि बिहार में कोरोना तेजी से बढ़ रहा है. राज्य में मामले 12 हजार पार कर चुके हैं.  इस बीच, एक और व्यक्ति की मौत हो जाने से कोरोना संक्रमण से मृत हुए लोगों की संख्या 98 तक पहुंच गई है. वहीं, बिहार में डॉक्टर सहित स्वास्थ्यकर्मियों के भी कोरोना पॉजिटिव होने के मामले लगातार आ रहे हैं जिसके बाद अब आईएमए ने भी अश्विनी चौबे को पत्र लिखा है.