close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

गया के कालचक्र मैदान में हुए नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप टूर्नामेंट का उद्घाटन

बोधगया के कालचक्र मैदान में नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप टूर्नामेंट (national weightlifting championship) सोमवार से शुरू हो गया है. कालचक्र मैदान में अस्थाई रूप से विश्वस्तरीय हार्ड सर्फेस स्टेज और वार्मअप एरिया के निर्माण का किया गया है. औरंगाबाद के सांसद सुशील कुमार सिंह और भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरीय अधिकारी और बिहार वेटलिफ्टर एसोसिएशन के मुख्य संरक्षक संजय कुमार सिंह ने इसका उद्घाटन किया.

गया के कालचक्र मैदान में हुए नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप टूर्नामेंट का उद्घाटन
बिहार के गया में नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप टूर्नामेंट का उद्घाटन.

गया: बोधगया के कालचक्र मैदान में नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप टूर्नामेंट (national weightlifting championship) सोमवार से शुरू हो गया है. कालचक्र मैदान में अस्थाई रूप से विश्वस्तरीय हार्ड सर्फेस स्टेज और वार्मअप एरिया के निर्माण का किया गया है. औरंगाबाद के सांसद सुशील कुमार सिंह और भारतीय प्रशासनिक सेवा के वरीय अधिकारी और बिहार वेटलिफ्टर एसोसिएशन के मुख्य संरक्षक संजय कुमार सिंह ने इसका उद्घाटन किया.

बिहार वेटलिफ्टर्स एसोसिएशन इस प्रतियोगिता का आयोजक है और गया जिला वेटलिफ्टिंग एसोसिएशन होस्ट की भूमिका में है. टूर्नामेंट में भाग लेने के लिए सभी खिलाड़ी बोधगया पहुंच गए हैं. बताया जा रहा है की देशभर के लगभग 800 खिलाड़ी इसमें भाग ले रहे हैं. ये टूर्नामेंट 40 समूहों में होगा. इसमें करीब 20 से 25 अंतरराष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी भी शामिल होंगे.

इस दौरान खिलाड़ियों और लोगों के मनोरंजन के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जा रहा है. बोधगया में इस प्रतियोगिता को आयोजित करने का उद्देश्य स्पोर्ट्स टूरिज्म को बढ़ावा देना है. इस टूर्नामेंट में 15 वां यूथ सब जूनियर बॉयज एंड गर्ल, 56 वां पुरुष एंड 32वां महिला जूनियर नेशनल वेटलिफ्टिंग चैंपियनशिप का आयोजन हो रहा है.

22 अक्टूबर तक चलने वाले मुकाबले में में देशभर के विभिन्न राज्यों, भारतीय सेना और रेलवे की टीमें भाग लेंगी. इस आयोजन में खेल मंत्रालय भारत सरकार की भागीदारी भी है.

नेशनल वेटलिफ्टिंग के अध्यक्ष सहदेव यादव ने आयोजन समिति की तारीफ करते हुए कहा कि विश्वस्तरीय आयोजन कर खेलों को बढ़ावा देने की कोशिश की जा रही है,  इस आयोजन के बाद बोधगया भविष्य में विश्व स्तरीय खेल प्रतियोगिता के लिए दावेदारी पेश कर पाएगा.