पटना के लोगों के लिए 'आफत' बन रहा प्रदूषण का बढ़ता ग्राफ, AQI 388 तक पहुंचा

 दीपावली के बाद से पटना का एक्यूआई  400 के आसपास रह रहा है, जो कि काफी खराब माना जाता है. 

पटना के लोगों के लिए 'आफत' बन रहा प्रदूषण का बढ़ता ग्राफ, AQI 388 तक पहुंचा

पटना: बिहार की राजधानी पटना में वायु प्रदूषण का ग्राफ लगातार बना हुआ है. दीपावली के बाद से पटना का एक्यूआई  400 के आसपास रह रहा है, जो कि काफी खराब माना जाता है. 

आज इसका स्तर 388 तक पहुंच गया है. इसका सीधा असर बच्चों और उम्रदराज लोगों पर देखा जा रहा है. डॉक्टर पॉल्यूशन के ग्राफ को लेकर बेहद चिंतित हैं. डॉक्टर की मानें तो एयर पॉल्यूशन के कारण बीमारियों में काफी बढ़ोतरी हुई है.

खासतौर पर बच्चे इससे प्रभावित हो रहे हैं. एयर पॉल्यूशन के कारण अस्थमा, एलर्जी, ब्रोंकाईटिस जैसी बीमारियों में इजाफा हुआ है. आंख और नाक से पानी आना, सांस लेने तकलीफ हो रही है. पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन अशोक घोष ने कहा है कि पूरे ठंड एयर पॉल्यूशन की स्थिती ऐसी ही बनी रहेगी.

आपको बता दें कि पटना में काफी लंबे समय से प्रदूषण का ग्राफ लगातार बढ़ा हुआ है. पटना में एक्यूआई का स्तर भी लगातार खराब है. सरकार इससे निपटने की तमाम कोशिशें कर रही है लेकिन इसका कुछ खास असर नजर नहीं आ रहा है.

वहीं, पटना में प्रदूषण पर जागरूकता फैलाने के लिए आरजेडी विधायक डॉ. नवाज आलम ई-रिक्शा से विधानसभा पहुंचे. बीजेपी एमएलसी संजय पासवान साइकिल से सदन पहुंचे.