व्यापार मेला: बिहार पवेलियन में धागे से बनी रंगबिरंगी नायाब ज्वेलरी आकर्षण का केंद्र

धागे की ज्वेलरी शिल्प कला की स्टेट अवार्ड सहित दर्जनों अवार्ड जीत चुकी अनिता गुप्ता देश में विभिन्न राज्यों में प्रदर्शनी के अलावा रूस, केलिफोर्निया के अलावा कई देशों के कई शहरों में प्रदर्शनी लगा चुकी है.

व्यापार मेला: बिहार पवेलियन में धागे से बनी रंगबिरंगी नायाब ज्वेलरी आकर्षण का केंद्र
ट्रेड फेयर में हर राज्य के दुकान लगे हुए हैं.

नई दिल्ली/पटना: 39वें अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला में हॉल नम्बर 12 में सजे बिहार पवेलियन में शिल्पकृति महिला स्वावलम्बन केन्द्र के स्टाल पर धागे से बनी रंगबिरंगी नायाब ज्वेलरी लोगों को खूब आकर्षित कर रहा है. महिलाएं और लड़कियां जमकर खरीदारी भी कर रही हैं. जर्मन सिल्वर के छल्ले एवं मिरर स्टोन के साथ धागे की ज्वेलरी को कई रंगों के धागों से आकर्षक डिजाइन में बने झुमका, हार, चंद्रहार सहित कई प्रकार के धागे की ज्वेलरी लोगों को लुभा रहा है. 

धागे की ज्वेलरी की कीमत 40 रुपये से लेकर 1500 रुपये तक है. धागे की ज्वेलरी शिल्प कला आरा के शिल्पकृति महिला स्वावलम्बन केन्द्र की स्टेट अवार्डी अनिता गुप्ता बिलुप्त हो रहे धागे की ज्वेलरी शिल्प कला को विश्व में नई पहचान देने में लगी हुई हैं. बिहार पवेलियन के शिल्पकृति महिला स्वावलम्बन केन्द्र, आरा स्टाल की संचालिका व भोजपुर महिला कला केन्द्र की अनिता गुप्ता ने बताया, "हम धागे की ज्वेलरी शिल्प कला को अपने क्ल्स्टर के माध्यम से देश विदेश में ले जा रहे हैं तथा इस कला को बढ़ावा देने में बिहार सरकार, भारत सरकार, वस्त्र मंत्रालय भरपूर सहयोग दे रहे हैं."

धागे की ज्वेलरी शिल्प कला की स्टेट अवार्ड सहित दर्जनों अवार्ड जीत चुकी अनिता गुप्ता देश में विभिन्न राज्यों में प्रदर्शनी के अलावा रूस, केलिफोर्निया के अलावा कई देशों के कई शहरों में प्रदर्शनी लगा चुकी है.

बिहार पवेलियन में सिक्की क्राफ्ट, टिकुली कला, स्टोन क्राफ्ट एवं टेराकोटा कला की लाइव डेमो ने भी लोगों को आकर्षित किया. व्यापार मेले के दौरान 21 नवंबर को बिहार दिवस का आयोजन किया जाएगा जिसके अंतर्गत बिहार मंडप के विधिवत उद्घाटन एवं सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा.